क्राइमबिहार

पटना में दिनदहाड़े ज्वेलर्स दुकान को लूटने का प्रयास 

फुलवारी शरीफ, अजित। राजधानी के बेउर थाना के आईओसी रोड सिपारा में दिन दहाड़े ल्वेलर्स दुकान को लूटने आये तीन अपराधियों को उस वक्त वापस भागना पड़ा जब स्थानीय दुकानदार एकजुट होने लगे और वह हंगामा शुरू कर दिया. हालांकि इस बीच दुकानदार के स्टाफ के साथ मारपीट करते हुए गले का पहना हुआ सोने का चेन छीनकर भागने में कामयाब हो गए. घटना के सूचना मिलने पर करीब 10 मिनट में ही पुलिस पहुंची और वहां लगे सीसीटीवी फुटेज निकाल कर अपराधियों का पता लगाने में जुट गए. स्थानीय दुकानदारों ने बताया कि एक बाइक पर तीन बदमाश पहुंचे थे. दो दुकान के अंदर पिस्तौल लेकर घुस एक बार खड़ा रहा.

अचानक और शोर शराबा सुनकर हम लोग को एहसास हो गया की दुकान में अपराधी घुस गया है इसके बाद आसपास के दुकानदारों को शोर मचा कर जमा किया गया. बहरहाल आपसी एकजूटता से दुकानदारों ने ज्वेलरी दुकानदार को लूटने का प्रयास पर पानी फेर दिया. हालांकि दुकान में घुसे लूटेरों ने दुकान के स्टाफ का पिस्तौल के बट से मार कर सर फोड़ दिया. घटना की खबर पा कर बेउर थाना पुलिस और डीएसपी पहुंचे. पुलिस सीसीटीवी के आधार पर लूटेरों के पहचान का प्रयास कर रही है. वहीं पुलिस ने कई स्थानों से मोबाईल का डंप डाटा भी जमा किया है. दिनदहाड़े हुए इस वारदात की चर्चा हो रही है कि अगर पड़ोसी महिला दुकानदार ने हिम्मत नहीं दिखाया होता तो शायद यह दुकान आज लूट जाती।

घटना के बारे में बताया जाता है कि आईओसी सिपारा रोड स्थित नटराज ज्वेर्लस में दोपहर के 2 बज कर 45 मिनट पर एक मोटर साइकिल पर सवार होकर तीन अपराधकर्मी आये. एक मोटर साइकिल पर दुकान के समाने खड़ा था जब कि दो अपराधकर्मी दुकान के आस पास मंडराने लगे. इन्हें देख कर पड़ोसी की महिला दुकानदार को शक हुआ और वह सर्तक हो गई. जैसे ही दोनों युवक राजीव कुमार की नटराज ज्वेलर्स दुकान के अंदर घुसे महिला दुकानदार दुकान से निकल ज्वलर्स दुकान की ओर गई तो देखा कि दो युवक पिस्तौल लेकर दुकान के स्टाफ गौतम के साथ मार पीट कर रहे हैं. महिला दुकानदार शोर मचाते हुए अन्य दुकानदार को इकठठा करने लगी. शोर सुन कर दुकान में घुसे दोनों अपराधी भागने लगे. भागने के क्रम में उन्होंने स्टाफ के गले से बीस ग्राम की सोने की चेन और लॉकेट ले लिया और फरार हो गये. हालांकि दुकानदारों ने उनका पीछा किया मगर हाथ में पिस्तौल होने के कारण वह सभी पीछे हट गये।

दुकान के स्टाफ गौतम ने बताया कि मालिक राजीव बाहर गये हुए हम दुकान प्रतिदिन की भांति खोल कर बैठे थे तभी दोपहर के समय एक लाल रंग की पल्सर मोटर साइकिल पर सवार तीन युवक आये.दो युवक दुकान के अंदर घुस कर तीजोरी की चाभी मांगने लगे. चाभी नहीं देने पर उन्होंने पिस्तौल के बट से माथे पर वार कर दिया जिससे मेरा सर फट गया. स्टाफ ने बताया कि दुकान लूटने का प्रयास आसपास के दुकानदारों के सहयोग से विफल हो गया मगर जाने के क्रम में मेरे गले से सोने का चेन और लॉकेट अपराधी लेकर चले गये. घटना की जानकारी लगने के साथ मौके पर बेउर थाना पुलिस और डीएसपी फुलवारी शरीफ पहुंचे. पुलिस ने घायल स्टाफ का इलाज करा पूछ ताछ करने के बाद उसे छोड़ दिया है।

Advertisements
Ad 2

बेउर थाना के प्रभारी थानेदार सह प्रशिक्षु डीएसपी निशांत गौरव ने बताया कि एक नटराज ज्वेलर्स नाम की दुकान है जहां अपराधी लूट के इरादे से आए थे. हालांकि लुटेरे लूटपाट में सफल नही हुए. दुकान के स्टाफ का चेन छीनकर फरार हो गए. सीसीटीवी फुटेज में कुछ नजर आया है. पुलिस लुटेरों का पहचान करने का प्रयास कर रही है.

श्रृंगार दुकान में बैठी महिला ने दिखाया साहस तो भाग गए बदमाश-

पड़ोसी महिला दुकानदार जो श्रृंगार का दुकान चलाती है उसने जब दो युवक की गतिविधि संदिग्ध देखी तब उससे शक हुआ और जब दोनों दुकान के भीतर गये तब वह अपना दुकान छोड़ ज्वर्लस दुकान को देखने चली गई.उसने जो दृश्य देखा उसके बाद दुकान पर बैठे अपने पति को इसकी जानकारी देते हुए शोर मचाना शुरू कर दिया. यह शोर ही काम आया और दुकान लूटने से बच गई।

Related posts

बेगूसराय में एक ही परिवार के चार बच्चों की डुबने से हुई मौत!

कार्य में लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर होगी सख्त कार्रवाई : मुख्यमंत्री

उपविकास आयुक्त के अध्यक्षता में कार्यों की समीक्षा बैठक आहूत की गई