वर्तमान सत्ताधारी लोग राजनीति में झूठ की तिजारत और जुमलों की करते है खेती

बलिया(सजंय कुमार तिवारी): समाजवादी पार्टी की सरकार जब 2012 में मा. अखिलेश यादव जी के नेतृत्व में बनी तो पार्टी द्वारा चुनाव घोषणा पत्र में किये गए सभी वादों को पूरा किया गया।यह समाजवादी पार्टी की विश्वसनीयता है। हम जो कहते है वह करते है। वही वर्तमान सत्ताधारी लोग राजनीति में झूठ की तिजारत और जुमलों की खेती करते है।जब हम विकास की बात करते है,रोजगार की बात करते है,महगाई की बात करते है ,किसान की बात करते है युवा की बात करते है महिला सुरक्षा की बात करते है तो झूठ और जुमले वाले लोग समाज को बांटने वाली बात कहते है।लेकिन इस बार प्रदेश की जनता इन्हें जान और पहचान गई है इनका सफाया होना निश्चित है। उक्त बातें समाजवादी लोहिया वाहिनी के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदीप तिवारी ने स्थानीय एक होटल में आयोजित प्रेस वार्ता में कही। प्रेस के सवालों का जबाब देते हुए उन्हों ने कहा कि सरकारी सम्पतियों को कौड़ी के मोल बेचने वाले लोग पूंजीपतियों के हाथों के कठपुतली है।अब इनका मन इतना बढ़ गया कि हमारे आस्था से जुड़े गोवर्धन पर्वत को भी बेचने का मनसौदा तैयार कर रहे है जो निंदनीय है।प्रदीप तिवारी ने कहा कि देश वर्तमान में अघोषित आपात काल से गुजर रहा है लोकतांत्रिक व्यवस्था खतरे में है हमारे मौलिक अधिकारों को अतिक्रमित किया जा रहा है ऐसे में समाजवादियों की जिम्मेदारी बढ़ जाती है कि वह इस विघटनकारी ताकतों,अर्थव्यवस्था को चौपट करने वाली ताकतों पूंजीपतियों की पोषक सरकार को उखाड़ फेके! “आओ चले बूथ करे चौपाल और बूथ को जिताये सपा सरकार बनाये”यात्रा पर निकले लोहिया वाहिनी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री प्रदीप तिवारी पूर्वांचल के लगभग दर्जनो जनपदों में चौपाल करने के उपरांत चाय पर चर्चा /वार्ता के दौरान उ. प्र. सरकार पर जम कर वरसे और कहा कि इस सरकार में भ्रष्टाच को सिंचित कर फैलाया जा रहा है। गायऔर भगवान का नाम बेचने वाले लोग गाय और भगवान के श्राप से ही खत्म होने जा रहे है।और समाजवादी लोग आ रहे है। इस दौरान समाजवादी पार्टी के जिला प्रवक्ता सुशील पाण्डेय”कान्हजी”ने सभी आगंतुक अतिथियों एव प्रेस के लोगो का भी स्वागत एव आभार व्यक्त किया।प्रेस वार्ता में जिला अध्यक्ष राजमंगल यादव,कामेश्वर सिंह,अजीत मिश्र,अपूर्व चौबे,विजय तिवारी,रंजीत चौधरी,आशुतोष ओझा,चिराग उपाध्याय ,निसु श्रीवास्तव आदि उपस्थिय रहे।