पेशेवर लुटेरे उडीशा सीमा पर लूटी गयी मोटरसाईकिल एवं मोबाईल के साथ रंगे हाथों धर-दबोचे गये

सिमडेगा: झारखंड सिमडेगा जिला पुलिस ने विगत संध्या मारा सफलताओं का हैट्रिक उडीशा के पेशेवर लुटेरे खदेड़कर उडीशा सीमा पर लूटी गयी मोटरसाईकिल एवं मोबाईल के साथ रंगे हाथों धर-दबोचे गये हत्यारे को कोलेबिरा के जंगलों से पकड़ लिया गया शातिर बाईक चोर को चोरी की मोटरसाईकिल के साथ सदर थाना क्षेत्र में गिरफ्तार कर लिया गया। प्रथम उपलब्धि विगत संध्या जाॅनसन बारला, पिता-स्व0 अलिबिश बारला, सा0-काटकोना (गिरजाटोली), थाना-सिमडेगा की हीरो स्पलेन्डर बाईक एवं उनका मोबाईल फोन टी0टांगर थानान्तर्गत घुमरीमोड़ के निकट एन0एच0-143 पर अज्ञात लुटेरे के द्वारा लूट ली गयी। ऐसी घटना इस वर्ष पहली बार हुयी। सूचना मिलते ही टी0टांगर थाना पुलिस टीम एवं बांसजोर थाना पुलिस टीम को उनके थाना प्रभारियों के नेतृत्व में उडीशा की ओर प्रस्थान का आदेश दिया गया। जिला की चारों ओर नाकेबंदी कर चेकपोस्टों पर वाहन चेकिंग सशक्त कर दी गयी.

लुटेरे को धर-दबोचने के लिए पुलिस अधीक्षक, सुन्दरगढ़ (उडीशा) सहित बीरमित्रापुर की पुलिस टीम का भी पूर्ण सहयोग लिया गया।अपराधी कितने ही शातिर क्यों न हों, सिमडेगा पुलिस उसे बख्शती नहीं। केवल दो घण्टे के भीतर टी0टांगर थाना प्रभारी के नेतृत्व में इनकी पुलिस टीम ने एन0एच0-143 पर अपराधियों का पीछा करके उसे लूटी गयी बाईक (JH20D/0633) और मोबाईल सेट के साथ उडीशा सीमा पर रंगे हाथों धर-दबोचा। पूछने पर लूटेरे ने अपना नाम अमर शुक्ला उम्र करीब 30 वर्ष पिता-स्व0 उमेश शुक्ला, सा0-महली दफाई बीरमित्रापुर जिला-सुन्दरगढ़ उडीशा राज्य बताया, जिसकी अपराधिक कुण्डली खंगाली जा रही है। इस सम्बंध में टी0टांगर थाना काण्ड संख्या-45/2021, दिनांक-21.09.2021, धारा-392 भा0द0वि0 प्रतिवेदित हुआ है।इस तत्परतापूर्ण पुलिसिया कारगर कार्रवाई के कारण कामयाबी का सेहरा अपने
सर पर बाँधने वाली टी0टांगर पुलिस टीम, जिसका नेतृत्व थाना प्रभारी, टी0टांगर ने किया, को एक अच्छी नगद राशि से पुरस्कृत किया जा रहा है।द्वितीय उपलब्धि कोलेबिरा थानान्तर्गत करमटोली गलायटोली में एक 50-वर्षीया महिला की हत्या अज्ञात व्यक्ति के द्वारा नुकीली चीज से गर्दन पर वार कर कर दी गयी एवं हत्यारा भाग खड़ा हुआ। कोलेबिरा थाना प्रभारी की तत्परतापूर्ण कारगर पुलिसिया कार्रवाई ने अज्ञात हत्यारे की तत्काल ही शिनाख्त की, जो मंगरू तूरी, पे0-स्व0 शनिचर तूरी, ग्राम-कोनसा लतरा, जिला-गुमला का निवासी पाया गया तथा जिसे पतराटोली जंगल से गिरफ्तार कर लिया। इसकी निशानदेही पर खून लगा बांस का डंडा भी बरामद कर लिया गया है। घटना का कारण हत्यारे ने एक अन्य महिला के साथ अवैध सम्बंध के कारण मृतिका द्वारा निरन्तर इसका विरोध किया जाना बताया है। कोलेबिरा पुलिस ने साबित कर दिया है कि हत्यारे को भी धर-दबोचने में सिमडेगा जिला पुलिस विलम्ब नहीं करती। इस सम्बंध में कोलेबिरा थाना काण्ड संख्या-50/2021, दिनांक-21.09.2021, धारा-302 भा0द0वि0 प्रतिवेदित हुआ है।इस सराहनीय कार्य के लिए थाना प्रभारी, कोलेबिरा सहित उनकी टीम को
पुरस्कृत किया जा रहा है.

तृतीय उपलब्धि सिमडेगा सदर थानान्तर्गत चोरी की बाईक एवं बाईक चोर की खोज में पुलिस निरीक्षक-सह-थाना प्रभारी, सिमडेगा निरन्तर प्रयासरत थे। विगत संध्या जिले की तीसरी उपलब्धि के रूप में उन्होनें सदर थाना पुलिस टीम के साथ शातिर चोर मोहम्मद साबिर अली उम्र करीब 35 वर्ष पिता-स्व0 जमालुद्दीन मियाँ साकिन-खैरनटोली चट्टान मुहल्ला, थाना-सिमडेगा को चोरी की हीरो होण्डा मोटरसाईकिल (निबंधन संख्या-JH-01DS-2950), जिसे उसने पलंग केनीचे छुपाकर रखा था, धर-दबोचा है। यह पूर्व में तीन चोरी की घटना में जेल भी जा चुका है। पुनः जेल भेजे जा रहे हैं।इस उपलब्धि के लिए पुलिस निरीक्षक-सह-थाना प्रभारी, सिमडेगा एवं उनकी टीम को भी पुरस्कृत किया जा रहा है।