फांसी के फंदे से लटकर युवक ने की खुदकुशी, परिजन ने हत्या का लगाया आरोप..!

जमुई(मो० अंजुम आलम): शहर कल्याणपुर मुहल्ला स्थित वार्ड संख्या 21 में सोमवार की देर रात एक युवक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतक युवक की पहचान लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र के आनंदपुर गांव निवासी स्व.सुरेश रावत के 20 वर्षीय पुत्र अजीत कुमार के रूप में हुई है। मृतक युवक कल्याणपुर निवासी उपेंद्र राम उर्फ पीटर के यहां 4 वर्षों से मज़दूरी करता था और मकान मालिक के घर मे ही रहता था। घटना की जानकारी उस वक़्त हुई जब मकान मालिक मंगलवार की अहले सुबह युवक को देखने गए। दरवाज़ा अंदर से बंद रहने की वजह से जब मकान मालिक द्वारा दरवाज़ा में धक्का दिया गया तो दरवाज़ा खुलते ही कमरे में प्लास्टिक के रस्सी से लटका हुआ युवक का शव देखा गया उसके बाद घटना की जानकारी मुहल्ले के लोगों को हुई फिर मृतक के परिवार वालों को मकान मालिक द्वारा घटना की सूचना दी गई। इधर सूचना के बाद मौके पर पहुंची मृतक की मां निर्मला उर्फ माला देवी और बहन पूजा देवी ने मकान मालिक पर हत्या कर फांसी लगाने का आरोप लगाया है। वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंचे सदर एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार सहित अन्य पुलिस पदाधिकारियों द्वारा घटना की छानबीन में जुट गई.

7 घंटे तक फंदे से झूलता रहा शव-

घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा कागज़ी प्रक्रिया के बाद जब शव को पोस्टमार्टम के लिए उठाकर ले जाया जाने लगा तो स्वजनों ने शव ले जाने का विरोध कर दिया और मकान मालिक को बुलाने की बात पर हंगामा करने लगे। घटना की सूचना के तकरीबन 7 घंटे तक शव फंदे से लटका रहा उसके बाद मृतक के परिवार वाले व ग्रामीण पहुंचे तो पुलिस द्वारा शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया.

14 जनवरी को घर गया था युवक-

मृतक की मां माला देवी ने बताया कि उनका बेटा 14 जनवरी मकर संक्रांति पर घर आया था। सबकुछ ठीक-ठाक था। फिर मकान मालिक के साथ वह वापस काम पर चला गया था। घर में किसी प्रकार का विवाद नहीं हुआ था.

मकान मालिक और युवक के बीच नहीं था कोई विवाद-

मकान मालिक उपेंद्र राम उर्फ पीटर ने बताया कि किसी प्रकार का कोई विवाद नहीं हुआ था। हमेशा की तरह सबकुछ ठीक-ठाक था। फिर युवक क्यों फांसी लगाकर खुदकुशी की है इसकी जानकारी नहीं है। लेकिन युवक हमेशा किसी से फोन पर बात किया करता था। सोमवार को वह तबियत ठीक नहीं रहने की बात कही थी जिस वजह से सोमवार को दूकान नहीं खोला गया था। रात में खाना खा कर ही युवक अपने कमरे में सोया था। और सुबह फंदे से झूलता हुआ पाया गया.

ठेला पर समोसा बेचता है मकान मालिक-

जमुई व्यवहार न्यायालय के समीप सड़क किनारे मकान मालिक उपेंद्र राम उर्फ पीटर ठेला पर वर्षों से समोसा बेचता है। युवक उसी के साथ समोसा बनाने घर से दूकान तक लाने-ले जाने का काम करता था।दो भाइयों में बड़ा भाई था मृतक,स्वजन का हुआ बुरा हाल.

स्वजनों ने बताया कि मृतक दो भाइयों में बड़ा भाई था और उसका तीन बहन भी है। युवक के पिता का वर्षों पूर्व मृत्यु हो गई थी। युवक ही मज़दूरी कर अपनी मां सहित अन्य परिवार वालों का भरण-पोषण करता था। युवक की मौत के बाद मां और बहन का रो-रो कर बुरा हाल हो रहा था। बेटे से बिछड़ने के गम में मां बार-बार बेहोश हो रही थी। इस दौरान शव को देखने के लिए काफी लोगों की भीड़ उमड़ी रही.

कोट-

फांसी के फंदे से झूलता हुआ शव बरामद किया गया है। प्रथम दृष्टया आत्महत्या की बात बताई जा रही है। लेकिन परिवार वालों द्वारा मकान मालिक पर हत्या का आरोप लगाया गया है। फिलहाल घटना के हर पहलुओं पर बारीकी से जांच की जा रही है। जल्द ही घटना के हक़ीक़त का पता कर कार्रवाई की जाएगी।

डॉ. राकेश कुमार, सदर एसडीपीओ, जमुई