उत्तरप्रदेश

जिला इमर्जेंशी में शराबियों का आतंक, शराबियों के आतंक से डॉक्टरों एवं नर्शो भी व्याप्त

Advertisements
Ad 4

बलिया(संजय कुमार तिवारी): यूपी के बलिया में एक ऐसा नजारा देखने को मिला जहाँ आप भी हैरान रह जायेंगे। जहाँ डॉक्टरों को लोग भगवान कहते हैं लेकिन नशे में धुत होने के बाद भगवान कहने वाले लोगो के द्वारा अभद्रता की जाती हैं ।जिसका नज़ारा बलिया जिला इमर्जेंशी में शाम होते ही शराबियों का आतंक बढ़ जाता हैं। शराबियों के आतंक से डॉक्टरों से लेकर नर्शो तक भय के साये में रहते है। आखिर जिला अस्पताल में कैसे डॉक्टर या स्टॉफ नर्स काम करेंगे।जब शराबियों के द्वारा डॉक्टरों एवं नर्शो के साथ अभद्रता की जाती हैं।मरीजो के साथ दस दस लोग नशे में धुत होकर आते है जिससे समझाने में काफी कठिनाइयां होती हैं। ड़ॉ0 सुमित कुमार ने बताया कि जिला अस्पताल में पुलिस चौकी होने के बाद भी नशे में धुत शराबियों को सँभालने में पर्याप्त संख्या बल नही होने से काफी पुलिस कर्मियों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। कभी डॉक्टरों के साथ तो कभी नर्शो के साथ शराबी मारपीट तो कभी बत्तमीजी भी करने लगते हैं।वही जिला अस्पताल के सीएमएस बीपी सिंह ने बताया कि जिला अस्पताल में पुलिस चौकी हैं चौकी प्रभारी से कहा जाता है।तो चौकी इंचार्ज सुबह शाम राउंड ले रहे हैं। सिपाहियों की संख्या कम हैं अगर सिपाहियों की संख्या बढ़ जायेगी तो हमारा भ्रमण बढ़ जायेगा इसके लिए हम कोतवाली में चिट्ठी लिखने जा रहे हैं।नर्शो के साथ मारपीट हुई थी डॉक्टरों के साथ मारपीट हुई थी उसके एफआईआर भी हुआ था वो लोग पकडे भी गये थे।

Advertisements
Ad 2

Related posts

चुनाव के दौरान 17 वर्षो बाद याद आए भृगु मुनि : बीजेपी प्रत्याशी नीरज शेखर

बीएसपी के प्रत्याशी का जोरदार स्वागत, बीएसपी प्रत्याशी बीजेपी प्रत्याशी पर बोला हमला

बलिया लोकसभा सीट से बीजेपी ने नीरज शेखर को बनाया प्रत्यासी