बिहार

आंगनबाड़ी केंद्रों का जिला प्रोग्राम पदाधिकारी ने किया का निरीक्षण 

पूर्णिया, न्यूज क्राइम 24। 14 दिसंबर। स्वास्थ्य व पोषण संबंधी मामलों में सुधार के लिए जिले में संचालित आंगनबाड़ी केंद्र महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। गर्भवती व धात्री महिला के साथ-साथ नवजात के स्वास्थ्य व पोषण संबंधी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आंगनबाड़ी केंद्रों के ऊपर है। आंगनबाड़ी केंद्रों का सफल संचालन सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से जिलाधिकारी कुंदन कुमार के दिशा- निर्देश के आलोक में जिले में समेकित बाल विकास परियोजना (आईसीडीएस) के जिला प्रोग्राम पदाधिकारी द्वारा जांच अभियान का संचालन किया गया।

इस दौरान जिला प्रोग्राम पदाधिकारी रीना श्रीवास्तव द्वारा के. नगर प्रखंड के रिकाबगंज, बाघमारा एवं पूर्णिया पूर्व प्रखंड के मरियम नगर, स्लम पासवान टोला, सिपाही टोला और न्यू सिपाही टोला स्थित आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्होंने केंद्र में उपलब्ध बच्चे की संख्या, दिये जा रहे पोषण और केंद्र की साफ- सफाई आदि की जांच करते हुए उपस्थित आंगनबाड़ी सेविकाओं को आवश्यक निर्देश दिया। इस दौरान राष्ट्रीय पोषण अभियान के जिला परियोजना सहायक सुधांशु कुमार भी उपस्थित रहे।

पोषण व स्वास्थ्य मामलों में सुधार को ले केंद्र की भूमिका महत्वपूर्ण :

Advertisements
Ad 2

आईसीडीएस जिला प्रोग्राम पदाधिकारी रीना श्रीवास्तव ने कहा कि जिले में स्वास्थ्य व पोषण संबंधी मामलों में सुधार में आंगनबाड़ी केंद्र महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। गर्भवती महिला एवं 0 से 6 साल आयु वर्ग के बच्चों के स्वास्थ्य व पोषण संबंधी मामलों में सुधार अभियान का उद्देश्य है। जिला प्रोग्राम पदाधिकारी ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र के माध्यम से बच्चों के उचित शारीरिक, मानसिक विकास की आधारशीला रखी जा सकती है। आंगनबाड़ी केंद्रों का सफल संचालन जिला प्रशासन की प्राथमिकताओं में शुमार है। इसके लिए आंगनवाड़ी केंद्रों का सफल संचालन आवश्यक है। आंगनबाड़ी सेविकाओं की हड़ताल समापन के बाद सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर योग्य लाभार्थियों को सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध हो रही,इसकी नियमित रूप से जांच की जा रही है।

केंद्र के जरिये स्वास्थ्य व पोषण मामले में सुधार संभव :

जिला प्रोग्राम पदाधिकारी द्वारा निरीक्षण के क्रम में आंगनबाड़ी केंद्रों पर टीएचआर का वितरण, केंद्र पर बच्चों की उपस्थति उपलब्ध इंतजाम सहित केंद्र संचालन से संबंधित दस्तावेजों की जांच किये जाने की जानकारी ली गई। साथ ही उन्होंने बताया कि जिले के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों की नियमित जांच की जिम्मेदारी सम्बंधित महिला पर्यवेक्षिकायों को दी गयी है। नियमित जांच के द्वारा आंगनबाड़ी केंद्र पर बच्चों की उपस्थिति, साफ सफ़ाई, गुणवत्तापूर्ण गर्म पका भोजन उपलब्ध होने की जानकारी ली जा रही है। निरीक्षण के दौरान जिला प्रोग्राम पदाधिकारी ने के.नगर प्रखंड के बाघमारा एवं पूर्णियां पूर्व प्रखंड के मरियम नगर केंद्र पर बच्चों की उपस्थिति में कमी एवं साफ सफ़ाई, पोषण ट्रैकर पर उपस्थिति दर्ज नही करने वाली लापरवाही को दूर करने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही सभी सुविधाओं की जानकारी पोषण ट्रैकर पर सही समय में दर्ज करने का भी निर्देश दिया गया है।

Related posts

गलत के खिलाफ उठाए आवाज और जागरूक होकर बच्चों को सही राह दिखाएं मुस्लिम महिलाएं : बुशरा रहमान

सौ बेड का हो गया कर्मचारी राज्य आदर्श बीमा अस्पताल

भूमि विवाद में जम कर चली गोली, गिरा दिया चहारदीवारी

error: