जिलाधिकारी ने सोनबरसा अस्पताल का किया औचक निरीक्षण

बलिया(संजय कुमार तिवारी): जिलाधिकारी श्रीहरी प्रताप शाही ने बैरिया क्षेत्र के सोनबरसा अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने महिला वार्ड में टेलीविजन व रूम हीटर लगाने का निर्देश प्रभारी को दिया। बाथरूम सहित अन्य सुविधाओं को बेहतर बनाने की भी सख्त हिदायत दी। संपूर्ण समाधान दिवस के बाद डीएम सोनबरसा सीएचसी पर अचानक पहुंच गए। दवाइयों की उपलब्धता की स्थिति जानी एवं मरीजों से बातचीत की टेली मेडिसिन सेंटर को देखा। उन्होंने सोनबरसा अस्पताल में पर्याप्त मात्रा में दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित करने की बात कही.

100 बेड के बन रहे अस्पताल को देखा-

जिलाधिकारी ने वहां निर्माणाधीन 100 बेड के चिकित्सालय को भी मौके पर जाकर देखा। साथ में ले गए अभियंताओं की टीम से उसकी गुणवत्ता की जांच कराई। मैटेरियल के कुछ नमूने भी लिए और उसकी रिपोर्ट उपलब्ध कराने की बात इंजीनियरों से कही। पुलिस अधीक्षक विपिन ताडा, डिप्टी सीएमओ डॉ हरिनंदन प्रसाद, डॉ एनके सिंह, डॉ आशीष श्रीवास्तव, डॉ अविनाश, फार्मासिस्ट एनएन शुक्ला सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे.

जीजीआईसी व डिग्री कालेज के निर्माण का लिया जायजा-

जिलाधिकारी ने अधिकारियों की टीम के साथ बैरिया में निर्माणाधीन राजकीय बालिका इंटर कॉलेज व राजकीय महाविद्यालय बैरिया सोनबरसा का निरीक्षण किया। उन्होंने ग्रामीण अभियंत्रण सेवा के अधिशासी अभियंता अजहर हुसैन व लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता आशीष शुक्ला से निर्माण की गुणवत्ता की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा। बताया गया 25 करोड़ की लागत से बनने वाले 100 बेड के अस्पताल के लिए अभी तक केवल चार करोड़ रुपए शासन से प्राप्त हुआ है। सात करोड़ सैतिस लाख की लागत से बनने वाले राजकीय महाविद्यालय के लिए महज डेढ़ करोड़ रुपए मिले हैं, जबकि राजकीय बालिका इंटर कॉलेज के निर्माण के लिए दो करोड़ पच्चीस लाख के सापेक्ष में दो करोड़ पन्द्रह लाख रुपए प्राप्त हुए हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि शेष धन के रिमांड के लिए मेरी ओर से पत्र भिजवाया जाए। किसी भी हालत में समय के अंतर्गत कार्य पूरा कर लेना है।