हल्की बारिश में ही जल जमाव, सड़क नाले में तब्दील, विभागीय लोग खामोश!

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत फुलकाहा बाजार स्थित फुलकाहा लक्ष्मीपुर सड़क बाजार में हल्की बारिश हो जाने पर ही सड़क नाले में तब्दील हो जाता है। जिससे महामारी के समय लोगों को खासकर महिलाएं को आने जाने में काफी कठिनाई होती है तथा इसी सड़क से इस लॉकडाउन के समय पदाधिकारियों का आना जाना भी लगा रहता है, लेकिन किसी ने सड़क की स्थिति को लेकर गंभीर नही दिखे। यहां तक की सड़कें कई जगह टूट चुकी है। इस महामारी के समय इमरजेंसी वाहन को भी आनेजाने में काफी कठिनाई होती है। लेकिन किसी ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया। सड़क को लेकर संवाददाता के द्वारा कई बार कई पदाधिकारियों को अवगत कराया गया तथा समाचार प्रकाशन भी किया गया।लेकिन बरसों बीत गए किसी पदाधिकारी ने इसकी सुध नहीं लिया। विकास के नाम पर पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि झूठी भरोसा दिलाते आ रहे हैं। फुलकाहा बाजार का इतिहास वर्षों पुराना है आजादी से पहले का यह बाजार लेकिन आज तक नाला का निर्माण नहीं हो पाया.

ऐसा लगता है विकास की बात सिर्फ कागजों पर ही रह जाता है। जबकि सरकार को इस बाजार से प्रत्येक वर्ष लाखों रुपयों का रेवेन्यू मिलता है। लेकिन एक सुलभ शौचालय का भी व्यवस्था इस बाजार में नहीं है यहां तक की बाजार में आने जाने वाले लोगों के लिए बरसात के समय ठहरने का भी जगह नहीं है।इस बाजार में सफाई कर्मी भी नहीं है। पदाधिकारी को केवल रेवेन्यू लेने तक की ही मतलब है। बाकी सुविधाओं पर ध्यान नहीं है। विकास के नाम पर इस क्षेत्र के लोगों को ठगने का काम किया जा रहा है।
वहीं कुछ स्थानीय लोगों ने बताते हैं कि जनप्रतिनिधि से लेकर पदाधिकारी तक इस क्षेत्र को सिर्फ ठगने का काम किया है। यहां विकास के नाम पर कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है ना सड़क ना स्वास्थ्य ना ही शिक्षा।