बिहार

बेखौफ ससस्त्र अपराधियों ने दो चावल व्यापारी के स्टाफ को मारी गोली!

Advertisements
Ad 4

अररिया(रंजीत ठाकुर, चंदन कुमार): रविवार की संध्या लगभग 5:00 बजे बथनाहा ओपी क्षेत्र अंतर्गत सोनापुर पंचायत के बालूगढ़ गांव के पास भोड़हर सोनापुर रोड पर तीन बाइक पर सवार छ: अपराधियों ने बाइक से फारबिसगंज की ओर जा रहे दो चावल व्यापारी के स्टाफ को मारी गोली. अपराधी हीरो ग्लेमर,अपाचे एवं टीवीएस बाइक पर सवार थे.

ग्रामीणों की सूचना पर बथनाहा ओपी अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर गोली लगे दोनों युवकों को फारबिसगंज रेफरल अस्पताल भिजवाया, जहां एक युवक की मौत हो गई,तो वहीं दूसरे को बेहतर इलाज के लिए पूर्णिया रेफर कर दिया गया है.

इस बाबत घटना के संबंध में अस्पताल में पहुंचे परिजनों ने बताया कि दोनों युवक अभिषेक गुप्ता चावल व्यापारी फारबिसगंज के यहाँ काम करते थे। जिनमें राहुल कुमार गुप्ता उम्र करीब 22 वर्ष,पिता स्वर्गीय अशोक प्रसाद गुप्ता ग्राम सिबरबनी,थाना भरगामा का निवासी बताया गया है, जो अभिषेक गुप्ता के चावल दुकान में स्टाफ के तौर पर काम करता था,जिसे अपराधियों के द्वारा जांघ में दो गोली मारी गयी है और उसकी स्थिति चिंताजनक है तथा बेहतर इलाज के लिए उसे पूर्णिया रेफर कर दिया गया है। वहीं दूसरा युवक अमन कुमार गुप्ता उम्र लगभग 22 वर्ष पिता स्वर्गीय सुरेंद्र गुप्ता कुशीनगर,उत्तर प्रदेश का बताया गया है,जो अभिषेक गुप्ता का साला बताया जाता है.

अपराधियों ने उसे जांघ में एक गोली मार कर जख्मी कर दिया और जिसकी अस्पताल जाने के क्रम में मौत हो गई। घटना की जानकारी जैसे ही फारबिसगंज शहर में लोगों को मिली,अस्पताल में लोगों का तांता लग गया।घटना की खबर पर स्थानीय विधायक फारबिसगंज विद्यासागर केसरी उर्फ मंचन केशरी अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी ली तथा बढ़ते अपराध को देखते हुए अस्पताल से ही उन्होंने बिहार के उपमुख्यमंत्री, पुलिस कप्तान अररिया, जिलाधिकारी अररिया से बात की तथा कानून व्यवस्था अभिलम्ब सुधारने की बात कही.

Advertisements
Ad 2

वही लोगों ने बताया कि अपराधियों द्वारा दोनों व्यक्तियों को गोली मारने के बाद उसके पास से करीब ढाई लाख रुपये लेकर फरार हो गए और पूरब दिशा की ओर भाग निकले। बताया जाता है कि दोनों व्यक्ति तकादा कर वापस फारबिसगंज वापस लौट रहे थे.

फारबिसगंज क्षेत्र में बढ़ रहे अपराध को लेकर व्यवसायी वर्ग काफी भयभीत है। पिछले दिनों ही फारबिसगंज के प्रसिद्ध दवा व्यवसाई पवन केडिया की गोली मारकर अपराधियों ने हत्या कर दी थी,जिसका अब तक कोई सुराग पुलिस नहीं लगा पाई है.

आज शाम की घटना के बाद पुलिस ने अपराधियों की घर-पकड़ हेतु अभियान तेज कर दिया गया है।इधर इसी बीच देर शाम नरपतगंज थाना पुलिस ने जांच के क्रम में दो युवकों भाग कोहलिया निवासी नीरज कुमार राम पिता किशोरी राम एवं मझुआ निवासी अभय विश्वास,पिता अरुण विश्वास को दो मोटरसाइकिल,एक पिस्टल एक जिंदा कारतूस एवं करीब ₹1,13,000 नकद के साथ धर दबोचा। वहीं दो अन्य अपराधी भागने में कामयाब रहे। पुलिस पकड़े गए दोनों अपराधियों से हत्या एवं लूट को लेकर पूछताछ कर रही है।

Related posts

आंतरिक मूल्यांकन से एनक्वास व कायाकल्प प्रमाणीकरण की प्रक्रिया को मिलेगी मजबूती

यात्री शेड पर व्यापारियों का कब्जा!

एसडीएम शैलजा पांडे ने निर्माणाधीन योजनाओं का किया जांच