बिहार

जिले में आगामी 09 अक्टूबर को संचालित होगा मिशन इंद्रधनुष का दूसरा चरण

अररिया, रंजीत ठाकुर। अररिया जिले में आगामी 09 अक्टूबर से मिशन इंद्रधनुष अभियान का दूसरा चरण संचालित होगा. इससे पहले बीते 07 से 12 अगस्त तक संचालित अभियान के पहले चरण की सफलता से उत्साहित स्वास्थ्य विभाग दूसरे चरण की सफलता में जुट गया है. अभियान के क्रम में दो वर्ष तक के बच्चे व गर्भवती महिलाओं का शतप्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित कराया जाना है. इसे लेकर सिविल सर्जन की अध्यक्षता में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया. इसमें अभियान की सफलता से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर विस्तृत चर्चा की गयी. अभियान के क्रम में लक्षित समूह के शत प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित कराने पर जोर दिया गया.

अभियान के सफल क्रियान्वयन का हो रहा प्रयास जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मोईज ने बताया कि विस्तृत रणनीति के तहत अभियान की सफलता सुनिश्चित कराने का प्रयास किया जा रहा है। अभियान के क्रम में दो साल से कम उम्र के सभी बच्चे व गर्भवती महिलाओं टीकाकरण से वंचित न रहें इसका विशेष ध्यान रखा जायेगा। इसे लेकर सुदूरवर्ती ग्रामीण इलाकों में अभियान की सफलता विभाग की प्राथमिकताओं में शुमार है। वैसे इलाके जहां नियमित टीकाकरण की पहुंच सीमित है, ऐसे चिह्नित इलाकों में मिशन इंद्रधनूष अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन को लेकर विशेष पहल किये जाने की जानकारी उन्होंने दी.

Advertisements
Ad 2

सामूहिक सहयोग से सफल होगा अभियान जानकारी देते हुए डीआईओ डॉ मोईज ने बताया कि तीन चरणों में संचालित होने वाले मिशन इंद्रधनूष का पहला चरण जिले में बेहद सफल साबित हुआ. पहले चरण की कमियों से सीख लेते हुए दूसरे चरण में बेहतर प्रदर्शन के लिये हम आशान्वित हैं. अभियान का दूसरा चरण 09 से 14 अक्टूबर के बीच संचालित होगा. वहीं तीसरा व आखिरी चरण 27 नवम्बर से 02 दिसंबर के बीच संचालित किया जाना है. अभियान के क्रम में नियमित टीकाकरण का आच्छादन अधिक बेहतर व प्रभावी बनाने को लेकर हर संभव प्रयास किये जाने की जानकारी उन्होंने दी.

विभिन्न बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करता है टीकाकरण
सिविल सर्जन डॉ विधानचंद्र सिंह ने बताया कि नियमित टीकाकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम की सफलता महत्वपूर्ण है. टीकाकरण गर्भवती महिलाएं व दो वर्ष तक के बच्चों को विभिन्न बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करने के लिहाज से जरूरी है. मिशन इंद्रधनुष अभियान के क्रम में जिले के सभी नौ प्रखंडों में टीकाकरण को लेकर विशेष इंतजाम किये जायेंगे. दो साल तक के बच्चों को बीसीजी, ओपीवी, पेंटावेलेंट, रोटा वैक्सीन, आईपीवी मिजिल्स, विटामिन-ए, डीपीटी बूस्टर डोज व बूस्टर ओपीवी के टीके लगाये जायेंगे. वहीं गर्भवती महिलाओं को अभियान के क्रम में टेटनेस- डिप्थेरिया का टीका लगाया जाना है.

Related posts

सीटी स्कैन सेंटर से अब तक लाभान्वित हो चुके हैं 30 हजार से अधिक लोग

जिले के 51 टीबी मरीजों को पौष्टिक आहार सेवन के लिए किया गया फूड वितरण

अभियान 40 आईएएस करेंट अफेयर्स पत्रिका का लोकार्पण