बिहार

एनक्यूएएस प्रमाणीकरण को लेकर विशेष टीम ने किया सदर अस्पताल का निरीक्षण

अररिया, रंजीत ठाकुर। सदर अस्पताल में उपलब्ध चिकित्सकीय इंतजाम व सुविधाओं को राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन मानक यानी एनक्यूएएस के निर्धारित मानकों के अनुरूप बनाने के लिये जरूरी पहल की जा रही है। एनक्यूएएस प्रमाणीकरण को लेकर संबंधित विभागों के मैपिंग को लेकर राष्ट्रीय मूल्यांकनकर्ता सह उत्तर प्रदेश सरकार के सेवानिवृत स्वास्थ्य निदेशक डॉ एके पॉलिवाल, राज्यस्तरीय मूल्यांकनकर्ता पिरामाल स्वास्थ्य के गुंजन गौरव, पिरामल स्वास्थ्य के डीएमएसओ पूर्णिया डिवीजन डॉ सनोज कुमार यादव ने बुधवार को सदर अस्पताल का निरीक्षण किया।

इस क्रम में सबसे पहले जिला स्वास्थ्य समिति सभागर में संबंधित विभागीय अधिकारियों की एक बैठक आयोजित की गयी। इसमें डीआईओ डॉ मोईज, डीसीक्यूए डॉ मधुबाला, पिरामल स्वास्थ्य के पीआई राजीव कुमार, सदर अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक डॉ आकाश, डॉ जीतेंद्र कुमार, अस्पताल प्रबंधक विकास आनंद सहित अनुमंडल अस्पताल फारबिसगंज, रानीगंज रेफरल हॉस्पिटल, सिकटी सीएचसी, पीएचसी पलासी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बीएचएम सहित अन्य अधिकारियों ने भाग लिया। बैठक में एनक्यूएएस के विभिन्न आयामों पर अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा की गयी।

स्वास्थ्य सेवा को राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप बनाना लक्ष्य –


राष्ट्रीय मूल्यांकनकर्ता डॉ एके पॉलिवाल ने बताया कि सदर अस्पताल सहित अन्य अस्पतालों में उपलब्ध सुविधाओं व चिकित्सकीय इंतजामों को राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप तैयार करने की कवायद की जा रही है। इसके तहत जिला अस्पताल में उपलब्ध सुविधाओं में सुधार का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सर्टिफिकेशन के लिये सदर अस्पताल को 70 फीसदी से अधिक अंक लाने होंगे।

Advertisements
Ad 2

अस्पताल के विभिन्न वार्डों का किया निरीक्षण-


एनक्यूएएस प्रमाणीकरण की मैपिंग को लेकर सदर अस्पताल पहुंचे विशेष अधिकारियों की टीम ने अस्पताल के विभिन्न वार्डों का निरीक्षण किया। इस क्रम में अस्पताल के प्रसव कक्ष, एसएनसीयू, ओपीडी सहित अन्य वार्डों का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में एसएनसीयू के भवन की जर्जरता को देखते हुए टीम ने बच्चों से संबंधित सभी सेवाएं एक ही छत के नीचे संचालित करने का सुझाव दिया। एसएनसीयू को पीआईडब्ल्यू वार्ड में ट्रांसफर करने के सुझाव पर उपस्थित सभी अधिकारी संतुष्ट नजर आये। इसी तरह प्रसव वार्ड के निरीक्षण के क्रम में इसे राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप संचालित करने को लेकर जरूरी दिशा-निर्देश दिये गये। इस क्रम में प्रसव वार्ड की नोडल डॉ स्नेहा किरण, इंचार्ज जीएनएम रीतिका राय सहित प्रसव वार्ड में कार्यरत अन्य कर्मी मौजूद थे।

गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता एनक्यूएएस का उद्देश्य –


पिरामल स्वास्थ्य के डीएमएसओ डॉ सनोज कुमार ने बताया कि सदर अस्पताल के कुल नौ विभागों को राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप विकसित किये जाने की कार्ययोजना है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी को लेकर केंद्र व राज्य सरकार द्वारा लगातार जरूरी प्रयास किया जा रहा है। ताकि लोगों को स्थानीय स्तर पर बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मुहैया करायी जा सके।

Related posts

गलत के खिलाफ उठाए आवाज और जागरूक होकर बच्चों को सही राह दिखाएं मुस्लिम महिलाएं : बुशरा रहमान

सौ बेड का हो गया कर्मचारी राज्य आदर्श बीमा अस्पताल

भूमि विवाद में जम कर चली गोली, गिरा दिया चहारदीवारी

error: