समोसा खाने को लेकर दो गुटों में मारपीट में पिट गया दुकानदार, तब शुरू हो गया बवाल!

 समोसा खाने को लेकर दो गुटों में मारपीट में पिट गया दुकानदार, तब शुरू हो गया बवाल!

फुलवारी/खगौल(अजित यादव): पटना के खगौल में दानापुर रेलवे स्टेशन होकर बिहटा की ओर जने वाली हाईबे किनारे जलाउद्दीन चक सरारी मोड़ के पास असामजिक तत्वों ने एक दुकानदार की पिटाई कर दी जिससे माहौल गरमा गया। दुकानदार के साथ ही उसकी पत्नी और बेटे की भी पिटाई हुई जिसकी जानकारी मिलते ही सरारी और जमालुद्दीन चक के लोग आमने सामने हो गए। इस बीच आक्रोशित लोगों ने खगौल शिवाला बिहटा भाया आरा मार्ग को जाम कर असामाजिक तत्वों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए टायर जलाकर आगजनी की । वही दो समुदायों में तनाव का माहौल होने की जानकारी मिलते ही खगौल शाहपुर दानापुर फुलवारी नौबतपुर नेउरा ओपी सहित आस पास के कई थानों की पुलिस पहुँचकर लोगो को शांत करने में जुटी.

घटना के बारे में बताया जाता है कि दानापुर के शाहपुर थानांतर्गत सरारी गुमटी के समीप दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई । जिसमें दोनो की पक्ष ने एक दूसरे पर मारपीट का आरोप लगाया है। एक पक्ष को जमालुद्दीन चक के रहनेवालों ने 25 के संख्या में आकर जमकर पिटाई कर बेहोश कर दिया। जिसके बाद आक्रोशित ने खगौल बिहटा सड़क को जाम कर टायर जलाकर आगजनी किया और हंगामा करने लगें। शाहपुर थानार्गत सरारी गुमटी स्थित उमंग चाट भाजी चलाने वाले दुकानदार अनुप कुमार गुप्ता ने बताया कि सरारी गुमटी के पास उनका निजी मकान में चाट और भाजी का दुकान है। जमालुद्दीनचक गांव से 20 की संख्या में आये असमाजिक तत्वों ने पत्नी सोनी देवी और पुत्र गोलू कुमार समेत दुकानदार को मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। घटना के बाद गुस्साए लोगों ने जमालुद्दीन चक के एक गुट पर मारपीट का इल्जाम लगाते हुए सड़क पर आगजनी कर बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग और प्रदर्शन करने लगे। वहीं शाहपुर व खगौल समेत कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच लोगों को समझाकर जाम हटाया और जख्मी लोगों को अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल पुलिस असामाजिक तत्वों पर कार्रवाजी में जुटी है। वहीं घायलो का इलाज कराया जा रहा है। असामाजिक तत्वों की करतूत से ईलाक़े में तनाव का माहौल है । हालांकि भारी संख्या में पुलिस फोर्स कैम्प कर रही है.

समोसा खाने को लेकर हुआ मारपीट , बवाल काटने वालों को तलाश रही पुलिस खगौल में बुधवार को दानापुर रेलवे स्टेशन से शिवाला भाया बिहटा जाने वाली मार्ग पर एक दुकानदार की पिटाई के बाद जमकर आगजनी बवाल मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। सड़क जाम आगजनी हो हंगामे के दौरान पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने छानबीन में पाया है कि जिस दुकानदार की पिटाई हुई थी वह लॉक डाउन में समोसा बेच रहा था। चूंकि लॉक डाउन में कहीं और समोसा नमकीन आदि नही मिल रहा था जिससे अनुज गुप्ता की दुकान पर समोसा खाने के लिए जमा दो गुटों में आपस मे ही झगड़ा हो गया। इसी झगड़े में पहले मुझे समोसा मिले इसी बात को लेकर दुकानदार की पिटाई हो गयी । समोसा खाने वालों ने जब दुकानदार को पीटना शुरू किया तब बीच बचाव में आई उसकी पत्नी और बेटे की भी पिटाई हो गयी। इसी के बाद लोगो ने मामले को।दो समुदायों से जोडते हुए सड़क जाम कर आगजनी और बवाल काटना शुरू कर दिया। पुलिस इस मामले में समोसा के लिए मारपीट करने वालों और सड़क जाम आगजनी में शामिल असामाजिक तत्वों की पहचान कर कानूनी कार्रवाई करने में जुट गयी है। इस पूरे मामले का खुलासा होने के बाद इलाके में हालात सामान्य होना शुरू हो गया हैं।

News Crime 24 Desk

Related post