पारस में घटी घटना व राज्य में बढ़ती यौन हिंसा के खिलाफ पटना की सड़कों पर प्रतिरोध मार्च कल

 पारस में घटी घटना व राज्य में बढ़ती यौन हिंसा के खिलाफ पटना की सड़कों पर प्रतिरोध मार्च कल
Advertisement

पटना: पारस अस्पताल में बलात्कार के बाद पीड़ित महिला की आज मौत हो गई। मौत की जानकारी मिलने के बाद एआईएसएफ की टीम आज बांस घाट पहुँची।टीम में शामिल एआईएसएफ की राज्य उपाध्यक्ष भाग्य भारती, प्रियंका झा, रचना विभा झा एवं चंद्रभूषण झा ने पीड़ित परिवार के साथ एकजुटता व्यक्त किया और न्याय की लड़ाई में हरसंभव साथ देने का भरोसा दिलाया।मौके पर मौजूद एआईएसएफ की राज्य उपाध्यक्ष भाग्य भारती ने कहा कि इस मसले में पीड़ित परिवार को सुरक्षा की गारंटी मुख्यमंत्री को करनी होगी ताकि भयमुक्त माहौल में वे अपनी बात कह सकें और पीड़िता को न्याय मिल सके। उन्होंने कहा कि घटना के दोषियों पर हत्या एवं बलात्कार का मुकदमा कर कड़ी से कड़ी सजा देने की माँग करते हुए कहा कि एआईएसएफ पीड़िता के न्याय के लिए चरणबद्व आंदोलन छेड़ेगा। जबकि छात्रा नेत्री प्रियंका झा ने कहा कि घटना के बाद से हीं प्रशासन एवं हॉस्पिटल प्रबंधन ने जिस तरह से दवाब बनाना शुरू कर दिया था।अगर उतनी तत्परता न्याय के लिए दिखाया गया होता तो पीड़ित भी जिन्दा होते और आरोपित सलाखों के पीछे। वहीं एआईएसएफ के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव विश्वजीत कुमार ने कल 20 मई को प्रतिरोध मार्च निकालने जानकारी देते हुए कहा कि पटना के पारस हॉस्पिटल में सामने आई घटना ने पूरे मानवता को शर्मसार किया है। आपदा की इस घड़ी में सभी निजी अस्पतालों को पूर्णतः अधिग्रहित कर सरकार को अपने नियंत्रण में लेना चाहिए।उन्होंने दरभंगा के कुशेश्वरस्थान में नाबालिग दलित लड़की के साथ घटी बलात्कार की घटना के सभी आरोपितों की गिरफ्तारी की माँग भी किया।प्रतिरोध मार्च कल स्टेशन के समीप निकाला जाएगा।

Advertisement
Advertisements
Advertisement

News Crime 24 Desk

Related post