बिहार

आधुनिक पद्धति से कैंसर के इलाज पर संगोष्ठी आयोजित

Advertisements
Ad 4

फुलवारीशरीफ(अजीत यादव): कैंसर के इलाज के लिए अति आधुनिक पद्धति पर्सनलाइज्ड थेरेपी इन कैंसर के उपायों पर शुक्रवार को महावीर कैंसर संस्थान पटना में एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया. इस संगोष्ठी का विधिवत उद्घाटन दीप प्रज्ज्वलित कर आचार्य किशोर कुणाल सहित डा० बी० सन्याल, डा० मनीषा सिंह, डा० एल० बी० सिंह एवं डा० विनीता त्रिवेदी द्वारा किया गया.

मुख्य अतिथि के रूप में आचार्य किशोर कुणाल ने संस्थान द्वारा इस तरह के वैज्ञानिक संगोष्ठी आयोजित करने पर हर्ष व्यक्त किया एवं उन्होंने कहा कि भविष्य में कैंसर के आधुनिक इलाज के बारे में इस तरह की चर्चाएं होती रहनी चाहिए.

परिचर्चा की शुरूआत करते हुए चिकित्सा निदेशक, डा० मनीषा सिंह ने कहीं कि सटीक ऑन्कोलॉजी कैंसर के उपचार और प्रबंधन के लिए एक दृष्टिकोण है जो प्रत्येक रोगी की व्यक्तिगत आवश्यकताओं के अनुरूप होती है. यह दृष्टिकोण प्रत्येक रोगी के कैंसर को चलाने वाले विशिष्ट जीनोमिक और आणविक परिवर्तनों की पहचान करने के लिए उन्नत जीनोमिक और आणविक प्रोफाइलिंग तकनीकों का उपयोग करता है.

चिकित्सा अधीक्षक, डा० एल० बी० सिंह ने अपने धन्यवाद ज्ञापन में कहा कि जिन विषयों पर अमेरिका जैसे अग्रणी देशों में कैंसर पर चर्चा होती है उस विषय पर आज महावीर कैंसर संस्थान में भी व्याख्यान आयोजित की जा रही है जिससे यह दिखायी पड़ता है कि महावीर कैंसर संस्थान कैंसर मरीजों के लिए अत्याधुनिक चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए सदैव तत्पर है.

Advertisements
Ad 2

तीन सत्रों में संगोष्ठी पर चर्चा हुई जिसमें एस. आर. एल मुम्बई से आये हुए डा० फिरोज अहमद, विभागाध्यक्ष, मोलेकुलर पैथोलॉजी, ने अपने उद्बोधन में जेनोमिक्स के द्वारा सटीक कैंसर के इलाज पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला. नाइपर के सह प्रध्यापक, डा० विपिन परिहार ने कैंसर में प्रोटेमीक्स के प्रभाव के बारे में अपना व्याख्यान दिया, जिसे उपस्थित लोगों ने सराहा. नाइपर बायोटेक्नोलॉजी विभाग के स० प्रध्यापक डा० मुरली कुमार स्वामी ने कैंसर के इलाज में नैनोटेक्नोलॉजी पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला.

सत्रों के पैनल में महावीर कैंसर संस्थान के वरीय चिकित्सक डा० बी० सन्याल, निदेशक (प्रशा०) डा० मनीषा सिंह, चिकित्सा निदेशक, डा० विनीता त्रिवेदी, डा० पी० सी० झा, डा० प्रभात रंजन, डा० कृष्णामुर्ति, डा० अजय विद्यार्थी, डा० रीता रानी, डा० बी० बी० पाण्डेय, डा० नवीन कुमार ने अध्यक्षता पैनल में शरीक हुए. इस मौके पर सैकड़ों चिकित्सक, रिसर्च स्कोलर, नाइपर के छात्र-छात्राएँ उपस्थित थे. चिकित्सकों के द्वारा बहुत सारे प्रश्न किये गये जिसका कि वक्ताओं ने संतोषजनक जवाब दिया.

डा० सिंह ने कहा कि 1 जून से कंकड़बाग में अवस्थित महावीर कैंसर संस्थान द्वारा संचालित पैलियेटीव केयर एण्ड हॉस्पीस में कैंसर मरीजों के लिए प्रतिदिन आउटडोर में स्क्रीनिंग होगी एवं संभावित कैंसर मरीजों को महावीर कैंसर संस्थान, फुलवारीशरीफ में जांच कि लिए भेजा जाएगा.

मंच का संचालन डा० ऋचा चौहान, सीनियर कन्सल्टेंट, रेडियोथेरेपी विभाग ने बहुत ही कुशलता से किया.

Related posts

गंगा किनारे शहरवासीयों ने लिया 1 जून को मतदान करने की शपथ

संफिक्स के नशे की गिरफ्त में मासूम का बचपन

ट्रांसफार्मर से तेल चोरी करते पकड़े गए तीन चोर, गिरोह का हुआ पर्दाफाश