कागजों में बनाई गई है ग्राम पंचायत में पेयर्स ब्लॉक की सड़कें..!

बलिया(संजय कुमार तिवारी): पंदह ब्लॉक के सहरोजा सहुलाई गांव में ग्राम प्रधान देवेन्द्र चौहान की मनमानी के आगे ग्रामीण बेबश हैं मामला 2018 में सड़क निर्माण के लिए प्रपोज़ल बना कर पैसे का भुगतान कराया गया था। उसके बाद सड़क निर्माण कार्य नही किया गया जिसके दौरान ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से लेकर मुख्यविकास अधिकारी व् बीडीओ तक को ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया।की ग्राम प्रधान देवेन्द्र चौहान द्वारा यह दिखाया गया है कि गंगासागर के घर से तारकेश्वर यादव के घर लगभग 50 मीटर की प्येयर्स ब्लॉक ईंट के द्वारा कार्य कराया गया हैं।इसके बाद गंगाधर तिवारी के घर से अंजनी तिवारी के घर तक का निर्माण कराया गया हैं जिसकी लागत लगभग 12 लाख बताई जा रही हैं और इसमे जो मैटेरियल का सामान जिस दुकान से मनाया गया हैं बॉम्बे बिल्डिंग मैटेरियल के नाम पर भुगतान किया गया हैं लेकिन सच तो यह हैं कि अभीतक कोई भी कार्य नही किया गया है कार्यकाल समाप्त होने तक। लेकिन अधिकारियो की लापरवाही के चलते अभीतक कोई जाँच नही किया गया.

अधिकारियो को कई बार ज्ञापन के बाद जब जाँच प्रक्रिया आगे बढ़ी तो आनन फानन में ग्राम प्रधान देवेन्द्र चौहान काम कराना शुरू कर दिया। सबसे बड़ा सवाल तब खड़ा होता है कि जब ग्राम प्रधानों की कार्यकाल समाप्त होने के बाद भी गांवो की विकास में ग्राम प्रधानों के द्वारा सहयोग किया जा रहा हैं। ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है जिला प्रशासन के द्वारा ग्राम प्रधानों की कार्यकाल समाप्ती के बाद भी ग्राम प्रधानों पर अधिकारी क्यों मेहरबान हैं या ग्राम पंचायतों में आये धन की बंदरबाट की योजना तो नही।