बिहार

होली में बाहर से घर लौट रहे परिवार के बच्चों को पिलाई जा रही पोलियो की खुराक

अररिया(रंजीत ठाकुर): रंगों के त्योहार होली में बाहर से घर आने वाले पांच साल से कम उम्र के बच्चों को प्राथमिकता के आधार पर पोलियो की दवा पिलाई जा रही है। इसे लेकर 05 मार्च से जिले में विशेष अभियान संचालित किया जा रहा है।

राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने पत्र जारी कर इसे लेकर जरूरी आदेश दिये हैं। जारी पत्र में कहा गया है कि बिहार को पोलियो मुक्त हुए दस साल पूरे होने वाले हैं। लेकिन प़डोसी देश पाकिस्तान व अफगानिस्तान में हाल के दिनों के दिनों में पोलियो संकमण का मामला सामने आया है। इससे राज्य में इसके प्रसार का खतरा बरकरार है।

संक्रमण का खतरा अब भी बरकरार

Advertisements
Ad 2

विशेष पोलियो अभियान की जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डॉ विधानचंद्र सिंह ने कहा कि होली जैसे महत्वपूर्ण त्योहार के मौके पर बड़ी संख्या में राज्य से बाहर रहने वाले लोग त्योहार मनाने अपने घर लौटते हैं। इससे राज्य में भी पोलियो वायरस के पहुंचने की संभावना होती है। लिहाजा विभागीय स्तर से बाहरी राज्यों से आने वाले पांच साल से कम उम्र के सभी बच्चों को पोलियो दवा पिलाने को लेकर पहल की जा रही है।

चिह्नित स्थानों पर प्रतिनियुक्त हैं ट्रांजिट टीम
जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मोईज ने बताया कि जिले में पोलियो का फिलहाल कोई मामला नहीं है। इससे पूर्व वर्ष 2009 में पोलियो का मामला जोकीहाट प्रखंड में सामने आया था।

संक्रमण के प्रसार संबधी खतरे को देखते हुए विभागीय आदेश के आलोक में जिले के अररिया रेलवे स्टेशन, अररिया कोर्ट रेलवे स्टेशन, फारबिसगंज रेलवे स्टेशन व जोगबनी रेलवे स्टेशन पर बच्चों को पोलियो दवा पिलाने के लिये ट्रांजिट टीम गठित की गयी है। अभियान के क्रम में मॉनिटरिंग टीम द्वारा लगातार इसका अनुश्रवण किया जायेगा। उन्होंने अभियान के सफल संचालन में आम लोगों से सहयोग की अपील की।

Related posts

भीषण गर्मी और लू को लेकर फिर बदला पटना के स्कूलों का समय

बसमतिया पुलिस व एसएसबी जवान ने संयुक्त अभियान चलाकर गाजा के साथ तस्कर को किया गिरफ्तार!

फुलकाहा एसएसबी के जवानों ने 48 किलो गाजा के साथ अपाचे बाइक किया जप्त, तस्कर अंधेरे का लाभ उठा कर भाग गया