पटना पुलिस ने किया हत्या मामले का उद्भेदन..!

पटना(आनंद मोहन): पटना पुलिस ने किया हत्या मामले का उद्भेदन। बीते 20 जनवरी को नौबतपुर और जानीपुर थाना के सीमा पर अपराधियों ने कोर्ट के मुंशी को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी थी। नौबतपुर के नारायणपुर के रहने वाले कोर्ट मुंशी का आपसी विवाद में सुपारी किलर से हत्या कराई गई थी। इस हत्या के मामले में फुलवारीशरीफ के जानीपुर पुलिस ने पूरी गुत्थी सुलझा ली है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में फुलवारीशरीफ एसपी मनीष कुमार ने बताया कि इसमें 5 अपराधी एक कट्टा और चार जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार किए गए। हत्या में इस्तेमाल किया गया मोबाइल और मोटरसाइकिल भी बरामद कर ली गई है। जजिस्मे यह बात सामने आया कि मुन्ना कुमार ने अपने पत्नी और बेटी पर छिटाकसी से नाराज होकर एक माह पहले ही बालेश्वर की हत्या की साजिश रची थी। पुलिस हत्या के बाद पुलिस पूरी तरह से साइंटिफिक अनुसंधान में जुट गई थी जिसमें यह पता चला कि अपराधी मृतक कोर्ट मुन्सी बालेश्वर का पीछा कर उसे जानीपुर के टिलहवा ब्रह्मस्थानी के पास गोली मार दी थी। गोली मारनेवाला सुपारी किलर अंकित और धीरज था और अमरजीत सिंहा लायन का काम कर रहा था । आरोपी मुना से डेढ़ लाख की सुपारी अपराधी मनीष ने तय किया था। और सभी ने मिलकर मुंसी की हत्या का पूरा प्लानिग किया था.

हत्या के दौरान यह भी पता चला था कि हत्या के सभी आरोपी का एक जगह मोबाइल लोकेशन मिला था और उससे मुन्ना का बात भी हुआ था। हालांकि मृतक ने फोन कर पत्नी को मृतक ने हत्यारो का नाम की जानकारी दिया था।पत्नी को जो जानकारी दिया था उसमें गांव के ही कुछ लोगों का नाम लिया था जिससे जमीनी विवाद चल रहा था कि जब अनुसंधान किया गया तो यह बातें सामने आई कि एफआईआर में जो नाम है उसमें से कोई हत्या में शामिल नही था बल्कि गांव के पड़ोस में रहने वाले मुन्ना कुमार ने ही सारी हत्या की साजिश रची थी। जिसे पुलिस ने पूरे अनुसंधान में आरोपी पाया और सभी आरोपियों के साथ गिराफ्तार किया। अपराधियों का अपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। सभी अपराधियों से पूछताछ के बाद न्यायिक हिरासत भेजा गया।