क्राइमताजा खबरेंबिहार

फुलवारी में मंगरु पासवान की गोली मारकर हत्या

Advertisements
Ad 4

फुलवारी शरीफ, अजित। पटना के फुलवारी शरीफ के रानीपुर में आपसी जमीन विवाद में हो रही है मारपीट के दौरान अचानक गोलीबारी हो गई. इस गोलीबारी में चचेरे पोतों के द्वारा चलाए गए गोली से दादा मंगरु पासवान बुरी तरह जख्मी हो गए. लोगों की सूचना पर पहुंची फुलवारी से थाना और परिजन गंभीर हालत में मंगरु पासवान को इलाज के लिए लेकर पटना एम्स गए जहां इलाज के दौरान मौत हो गई. मृतक मंगरू  पासवान फुलवारी शरीफ नगर परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष स्वर्गीय चेतन पासवान के मंझले भाई थे. घटना के बाद परिवार में कोहराम मच गया.रोते बिलखते परिजन पुलिस को साफ बता रहे हैं की हत्या की घटना से पहले मंगरु पासवान के चचेरे भतीजे सुनील पासवान और उनके दो बेटे सनी और अमन मारपीट गाली गलौज कर रहा था. इस दौरान सुनील पासवान का दो बेटा अमन और सनी ने पिस्तौल निकाल कर मंगरु पासवान पर फायर कर दिया जिसमें दो गोली चेहरे पर लगा. खून से लथपथ  मंगरु पासवान वहीं गिर पड़ा इसके बाद परिवार वाले पुलिस को सूचना दिया.पुलिस के साथ ही परिजन इलाज के लिए उसे लेकर एम्स गए जहां इलाज के दौरान चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. गोलीबारी और मारपीट के दौरान किसी ने मोबाइल से वीडियो बना लिया जो पुलिस के हाथ लगा है पुलिस उस वीडियो के आधार पर कार्रवाई कर रही है. उस वीडियो में देखा गया है कि सुनील पासवान के दोनों बेटे हाथ में पिस्टल लिए लड़ाई झगड़ा कर रहे हैं. गोलीबारी के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए. पुलिस बदमाशों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी कर रही है।

फुलवारी शरीफ थाना अध्यक्ष  सफर आलम ने बताया कि मंगरु पासवान और उसके भतीजे के परिवार में मारपीट हो रही थी. मंगरु पासवान का चचेरा भतीजा सुनील पासवान का बेटा पर गोली मारने का आरोप है. पुलिस को एक वीडियो भी मिला है जिसमें पिस्तौल लहराते देखा गया है। एसपी फुलवारी शरीफ विक्रम सिहाग ने बताया कि रानीपुर में मंगरु पासवान और उसके चचेरे भतीजा सुनील पासवान के परिवार में आपसे जमीन विवाद को लेकर लड़ाई झगड़ा मारपीट हो रही थी. इस दौरान गोली लगने से मंगरु पासवान जख्मी हो गए, जिन्हें इलाज के लिए एम्स ले जाया गया  जहां उनकी मौत हो गई. पुलिस मृतक के परिवार वालों को बयान के आधार पर हत्यारों  की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

Advertisements
Ad 2

Related posts

BREAKING : बिहार में बालू खनन पर लगी रोक

केंद्र सरकार नीट मामले में अपने लोगों और एनटीए को बचाने में लगी हुई है : एजाज अहमद

रुपौली विधानसभा उपचुनाव में एनडीए समर्थित जदयू प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित : उमेश सिंह कुशवाहा