कोशी की सरकारी जमीन पर कचड़ों का ढ़ेर, आमजनों को हो रही है परेशानी!

अररिया(रंजीत ठाकुर): बथनाहा में सरकारी जमीनों पर कब्जा और कचड़ा आम लोगो के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है । कोशी योजना द्वारा 1960 के दशक में अधिग्रहित भूमि पर हाट चौक के इर्दगिर्द लोगो के द्वारा जहाँ नित्यदिन कब्जा जमाया जा रहा है तो वहीं इन्ही अवैध अतिक्रमणकारियो के दुकानों से नित्यदिन निकलने वाले कचड़ा को फेकने के अलावे गंदा पानी , मल मूत्र आदि को कोशी के जमीन में बहाया जाता है । अब इन कचड़े से दुर्गंध आने के कारण जहाँ कोशी कर्मियों का कार्यालयों में काम करना दूभर हो रहा है तो वही अगल बगल निवास करने वाले लोगो का रहना मुश्किल होने लगा है.

कोशी का जमीन को सुनियोजित तरीके से कब्जा कर लोगों के द्वारा अवैध रूप से दुकानों का संचालन के अलावे पक्का मकान का भी निर्माण कर लिया गया है जिसमें लोग स्थाई रूप से रहते भी है तथा इन्ही मकानों , दुकानों से नित्यदिन निकलने वाले कचड़ा को कोशी के जमीन पर फेका जाता है । खासकर प्लास्टिक कचड़ा से लोगो को अत्यधिक परेशानी हो रही है । अगल बगल निवास करने वाले लोगों को तब अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है जब हवा का तेज झोका चलता है ,उस समय प्लास्टिक कचड़ा लोगों के घरों के साथ साथ कोशी कार्यालय तक उड़ कर चला जाता है । स्थानिय निवासी सुरेश कण्ठ , लक्ष्मी नारायण गुप्ता , जदयू नेता नीतीश मेहता , रंजीत ठाकुर , पंकज मंडल जितेंद्र ठाकुर , योगनारायण ठाकुर , आदि ने कहा कि इस समस्या के लिए न तो पुलिस प्रशासन गम्भीर है और न ही कोशी के अधिकारी जिस कारण लोगों को परेशानी हो रही है तो वहीं जमा हो रहे प्लास्टिक कचड़ा लोगों के स्वास्थ्य के लिए भी गम्भीर खतरा उत्पन्न कर रहा है।