नदी के कटान पीड़ितों के लिए नेताप्रतिपक्ष ने जलशक्ति मंत्री को सौंपा पत्रक

बलिया(संजय कुमार तिवारी): घाघरा नदी में हो रहे तेज कटान को रोकने और कटान से हो रहे नुकसान के मुआवजा हेतु बांसडीह विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं प्रतिपक्ष के नेता रामगोविन्द चौधरी ने विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह को पत्रक दिया। साथ ही विधानसभा में भी नियम 301 के तहत इस मुद्दे को उठाया और सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि लोक महत्व के मुद्दे पर सरकार का थोड़ा भी ध्यान नही है जिसके कारण दर्जनों गांवों और वहाँ के निवासी ग्रामीण भयभीत और दुखी है।सरकार अविलम्ब इस समस्या के समाधान के तरफ ध्यान दे। रामगोविन्द चौधरी ने कहा कि इस इलाके में हल्का कतंरोधी कार्य हुए लेकिन वह नाकाफी है मंत्री जी को दिए पत्रक में नेता प्रतिपक्ष रामगोविन्द चौधरी ने कहा कि मेरे विधानसभा क्षेत्र 362 बांसडीह का अधिकतर हिस्सा घाघरा नदी के किनारे पर है।इस वर्ष घाघरा नदी धारा में कटान की गति अत्याधिक है जिससे बांसडीह ब्लाक अन्तर्गत महाराज पुर एवं मनियर ब्लाक क्षेत्र में ककरघट्टा, नवका गांव रिगवंन,गोड़ावली,सुल्तानपुर, खादीपुर, पर्वतपुर,सारंगपुर, कोलकला, हिलासगढ़, कोटवा मलाही चक आदि ग्रामीणों का हजरों एकड़ खेती योग्य भूमि नदी में समा गई है जिससे उन ग्रामीण किसानों को भुखमरी का सामना करना पड़ रहा है।

उन्हें तत्काल मुआवजा दिया जाय।साथ ही महाराजपुर गाँव जिसके अस्तित्व पर ही खतरा प्रतीत हो रहा है उस ग्रामसभा के अस्तित्व को बचाने हेतु तत्काल उचित एवं कारगर कदम उठाया जाय। पत्र की प्रति प्रेस को देते हुए समाजवादी पार्टी के जिला प्रवक्ता सुशील पाण्डेय”कान्हजी”इस अत्यंत आवश्यक और व्यापक जनहित के मुद्दे को को हल कराने हेतु प्रयास के लिए नेता प्रतिपक्ष के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया है।