बिहार

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने लोकसभा में रेल ठहराव का मुद्दा उठाया

पटना, न्यूज क्राइम 24। जनता दल (यू0) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह लोकसभा सांसद राजीव रंजन सिंह ‘‘ललन’’ ने मंगलवार को लोकसभा में ट्रेनों के ठहराव का मुद्दा उठाया। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि महामारी के कारण कोरोना काल में रेल सेवा बंद कर दी गई थी लेकिन रेल सेवा बहाल होने के बाद कोरोना से पहले जितने रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों का ठहराव था उन सभी को समाप्त कर दिया गया। छोटे स्टेशनों पर ईएमयू ट्रेन का भी ठहराव बंद कर दिया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मेरी जानकारी के अनुसार लगभग दस हजार से अधिक स्टेशनों पर ट्रेनों का ठहराव बन्द कर दिया गया। जो बिल्कुल उचित फैसला नहीं था। उन्होंने कहा कि मेरे निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत बड़हिया, बाढ़ और अथमलगोला स्टेशनों पर महत्वपूर्ण ट्रेनों का ठहराव अब नहीं होता है। बन्सीपुर और कुंदरहोल्ट जैसे छोटे स्टेशनों पर ईएमयू पैसेंजर ट्रेन का ठहराव बंद है।

Advertisements
Ad 2

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि माननीय रेल मंत्री को मैंने कई बार पत्र लिखकर इस समस्या से अवगत कराया है लेकिन अभी तक इस ओर कोई सकारात्मक कार्रवाई होते नहीं दिख रही है। इस फैसले के विरोध में स्थानीय स्तर पर जनआंदोलन हो रहा है। लोग रेलवे लाइन पर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं तीन-तीन दिन तक रेल सेवा ठप रह रही है। उन्होंने कहा कि पैसेंजर ट्रेनों में सफर करने वाले लोग गरीब और मजदूर होते हैं जिनके आवागमन का दूसरा और कोई साधन नहीं है। उन्होंने मांग किया कि रेल मंत्रालय जल्द से जल्द बड़हिया, बाढ़ और अथमलगोला सहित तमाम छोटे स्टेशनों पर रेल सेवा बहाल करें।

Related posts

गलत के खिलाफ उठाए आवाज और जागरूक होकर बच्चों को सही राह दिखाएं मुस्लिम महिलाएं : बुशरा रहमान

सौ बेड का हो गया कर्मचारी राज्य आदर्श बीमा अस्पताल

भूमि विवाद में जम कर चली गोली, गिरा दिया चहारदीवारी

error: