बिहार

सेहत के प्रति ज्यादा सचेत रहें मधुमेह, बीपी व हार्ट के मरीज

अररिया, रंजीत ठाकुर। ठंड का मौसम धीरे-धीरे परवान चढ़ने लगा है। तापमान में लगातार गिरावट आ रही है। इससे बुजुर्गों के लिये सेहत से जुड़ी परेशानी भी बढ़ रही है। सिविल सर्जन डॉ विधानचंद्र सिंह बताते हैं कि सर्दी के मौसम में शरीर में रक्त का दबाव बढ़ जाता ,जो हार्ट अटैक व ब्रेन हैमरेज का कारण बनता है। ऐसे में मधुमेह, बीपी, हार्ट के मरीजों को ठंड में अपनी सेहत के प्रति ज्यादा सतर्क व सचेत रहने की जरूरत है। बुजुर्गों के लिये ये जरूरी है कि बहुत जरूरी होने पर ही वे अपने घर से बाहर निकलें। खुली धूप होने पर उसमें अधिक समय बितायें। गर्म व ऊनी कपड़ों का अधिक इस्तेमाल करें। नियमित रूप से गर्म पानी का सेवन व नियमित समय पर जरूरी दवाओं का सेवन इस मौसम में बुजुर्गों के लिये ज्यादा जरूरी हो जाता है।

13.6 फीसदी महिलाएं व 18.8 फीसदी पुरुष लेते हैं डायबिटीज की दवा-

जिले में डायबिटीज व हाइपरटेंशन के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। एनएफएचएस 05 के आंकड़ों के मुताबिक जिले में 15 साल से अधिक उम्र की 13.6 फीसदी महिलाएं ब्लड शुगर अधिक होने के कारण दवा का सेवन कर रही हैं। वहीं 15 साल से अधिक उम्र के 18.8 फीसदी पुरुष ब्लड शुगर का स्तर अधिक होने की स्थिति में दवा का सेवन करते हैं। इसी तरह 15 साल से अधिक उम्र की 12.1 फीसदी महिलाएं ब्लडप्रेशर को नियंत्रित करने के लिये दवा का सेवन करती हैं। वहीं हाइपरटेंशन को नियंत्रित करने के उद्देश्य से इसी आयु वर्ग के 15.8 फीसदी पुरुष दवा का सेवन कर रहे हैं।

ठंड में बढ़ जाता है अटैक व हैमरेज का खतरा-

Advertisements
Ad 2


सिविल सर्जन डॉ विधानचंद्र सिंह बताते हैं कि ठंड के मौसम में हार्ट अटैक व ब्रेन हैमरेज से जुड़े मामले 20 से 25 फीसदी तक बढ़ जाते हैं। कमजोर इम्युनिटी, उच्च रक्तचाप, हृदय संबंधी रोग, मधुमेह सहित अन्य गंभीर रोग से पीड़ित मरीजों को इसका खतरा अधिक रहता है। ठंड के मौसम में अक्सर लोग पानी का सेवन कम करते हैं। लोगों की शारीरिक गतिविधियां कम हो जाती हैं। आमतौर पर लोग गर्म व तेल मसाला युक्त खाना पसंद करते हैं। इससे शरीर में सुगर का लेवल प्रभावित होता है। इसलिये शरीर को स्वस्थ व गर्म बनाये रखने के लिये खुली धूप में अधिक समय बिताना, हल्का व्यायाम, संतुलित व पौष्टिक आहार का सेवन जरूरी हो जाता है।

हेल्दी डाइट व पर्याप्त नींद जरूरी-


सदर अस्पताल के एनआरसी में कार्यरत फूड डेमोंस्ट्रेटर इंद्राणु भारती ने बताया कि बुजुर्गों के लिये ठंड में हेल्दी डाइट व पर्याप्त नींद जरूरी है। किसी भी रूप में हल्दी, तुलसी व अदरक का सेवन नियमित रूप से करें। इससे इम्युन सिस्टम मजबूत होता है। गाजर व टमाटर का भरपूर मात्रा में उपयोग किया जा सकता है। इसके अलावा रसदार मौसमी फलों का सेवन सेहत के लिहाज से महत्वपूर्ण व जरूरी है।

Related posts

गलत के खिलाफ उठाए आवाज और जागरूक होकर बच्चों को सही राह दिखाएं मुस्लिम महिलाएं : बुशरा रहमान

सौ बेड का हो गया कर्मचारी राज्य आदर्श बीमा अस्पताल

भूमि विवाद में जम कर चली गोली, गिरा दिया चहारदीवारी

error: