बिहार

18 जनवरी तक बिहार सरकार हमारी मांगो पर अमल करें, अन्यथा 19 जनवरी को मुख्यमंत्री आवास का करेंगे घेराव..!

Advertisements
Ad 4

पटना: आक्रोषित जी.एन.एम अभ्यर्थियों ने ‘आप’ नेता बबलू प्रकाश के नेतृत्व में, कारगिल चौक, गांधी मैदान पटना में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के खिलाफ जमकर नारे लगाए और पुतला फूंका।राज्य स्वास्थ्य समिति बिहार द्वारा विज्ञापित ग्रेड ‘ए’ नर्स स्टाफ पद पर वर्ष 2016-19 बैच के जी.एन.एम छात्राओं को सम्मिलित किया जाए.

जीएनएम अभ्यर्थियों ने कहा है कि स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, जीएनएम अभियर्थियों से किये अपना वादा भूल गए हैं। छात्रों को धोखा देने का काम किया है। बिहार में जी.एन.एम कोर्स का सत्र 2016–19 में काफी बिलम्ब हो चुका है। जिसमे छात्राओं कि कहीं कोई गलती नहीं है। छात्राओं ने कहा कि झारखंड, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश इत्यादि में उक्त सत्र 2016-19 की जी.एन.एम कोर्स की अंतिम परीक्षा वर्ष 2019 के अक्टूबर माह में ही समाप्त हो चुकी है। दूसरे राज्यों के छात्राओं के बीच अंक प्रमाण पत्र, निबंधन प्रमाण पत्र इत्यादि ससमय निर्गत हो चुका है। वहीं बिहार जी.एन.एम की सभी छात्राएं सत्र 2016-19 की लिखित एवं व्यवहारिक परीक्षा (बिहार परिचारिका परिषद द्वारा संचालित) दिसम्बर 2020 में सम्पन्न हुआ जिसका रिजल्ट अबतक नही आया है। स्वास्थ्य विभाग, बिहार, पटना की लापरवाही से ऐसा हुआ है। हज़ारो छात्राओं का भविष्य खतरे में पड़ गया है.

Advertisements
Ad 2

छात्राओं ने कहा कि- 4102 ग्रेड ‘ए’ नर्स स्टाफ पद के लिए राज्य स्वास्थ्य समिति ने बहाली निकाली है जिसका अंतिम तिथि 20 जनवरी 2021 है। सरकार से हमारी मांग है कि- बहाली की अंतिम तिथि उस वक़्त के लिए बढ़ा दी जाए जबतक हमारा परीक्षाफल व रजिस्ट्रेशन बीएनआरसी के द्वारा जारी कर दी जाए।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता बबलू कुमार प्रकाश ने कहा स्वास्थ्य विभाग की लुंजपुंज रवैया के कारण हजारों जीएनएम अभ्यर्थियों का भविष्य अधर में फंस गया है. राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा विज्ञापन के शर्तों के अनुरूप दूसरे राज्यों के जीएनएम अभ्यर्थी आवेदन करने के योग हैं, परंतु विडंबना यह है कि बिहार के अभ्यार्थी / छात्राएं रिजल्ट नही मिलने के कारण इसमें आवेदन करने से वंचित होने की स्थिति में है, जिसकी सारी जवाबदेही स्वास्थ्य विभाग बिहार पटना को जाती है। GNM अभ्यर्थियों का सरकार से आग्रह किया है कि 18 जनवरी तक बिहार सरकार हमारी मांगो पर अमल करें अन्यथा 19 जनवरी को मुख्यमंत्री आवास के सामने शांतिपूर्वक धरना देंगे।

Related posts

एसएसबी ने विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से चलाया जागरूकता अभियान

फुलवारी शरीफ मे लो वोल्टेज से व्यापारी परेशान

थाना हाजत में जीजा साली ने की फांसी लगाकर आत्महत्या!