कलाकारों ने नुक्कड़ नाटय के जरिये दिया कोविड संक्रमण से बचाव का संदेश 

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): सर्वमंगला सांस्कृतिक मंच (एस.एस.एम) का सप्ताहिक रविवारीय नुक्कड़ नाटक में महेश चौधरी द्वारा लिखित एवं निर्देशित नुक्कड़ नाटक “कोरोना के अंत का आगाज” की प्रस्तुति वाल्मी, फुलवारीशरीफ में की गई. नाटक का शुरुआत सौरभ राज के स्वरबध्द गीत- सुनो रे भैया सुनो ए बहना सुन लो मेरी बात, जब तक वैक्सीन का दूसरा डोज न लग जाए तब तक कोरोना से बचके रहना मेरे भाई……. से की गई. नाटक में यह दिखाया गया कि कोविड-19 की लड़ाई में 9-10 महीनों से लड़ रहे सभी चिकित्सकों तथा हमारे देश के वैज्ञानिकों के संकल्प और कड़ी मेहनत के बदौलत वैक्सीन तैयार कर कीर्तिमान स्थापित की है। उन योद्धाओं को शुक्रिया करते हुए कलाकारों ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान अपने देश में अब शुरू हो गया है। यह उत्सव मनाने जैसा दिवस है.

कोरोना काल में जो कर्मी जनसेवा में समर्पित थे उनको प्रथम चरण में वैसे स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मी, सेना, आपदा प्रबंधन से जुड़े लोगों को टीका लगाया जा रहा है। उसके बाद आम आदमी के लिए उपलब्ध होगा तब तक हम सभी को कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय करने होंगे. नाटक के कलाकार महेश चौधरी, मोनिका, सौरभ राज, अमन, करण, प्रमोद, आर्यन, नमन, सांभवी, वैभव बादल, वीर, कामेश्वर, जगत नारायण भट्ट थे।