बिहार

सभी DM को स्कूल-कोचिंग और आंगबाड़ी केंद्र को बंद करने का आदेश

Advertisements
Ad 4

पटना, (न्यूज़ क्राइम 24) भीषण गर्मी के चलते सीएम नीतीश कुमार ने सभी सरकारी एवं निजी विद्यालय (कोचिंग संस्थान सहित) एवं आंगनबाड़ी को बंद करने के निर्देश जारी किए हैं। 30 मई से 08 जून 2024 तक बंद करने का फैसला लिया गया है. मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, बिहार के मुख्यंत्री नीतीश कुमार ने मुख्य सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा को निर्देश दिया है कि वे जरूरत के हिसाब से वर्तमान स्थिति को देखते हुए स्कूलों को बंद करने के संबंध में समुचित कार्रवाई सुनिश्चित करें ताकि स्कूली बच्चों का स्वास्थ्य प्रभावित न हो.

सीएम ने मुख्य सचिव को यह भी निर्देश दिया है कि वे क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक आयोजित कर वर्तमान परिप्रेक्ष्य में अन्य आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करें. देशभर में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है. अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा रिकॉर्ड किया जा रहा है. दिल्ली में 50 डिग्री के करीब (49.9 डिग्री) पहुंचे अधिकतम तापमान ने पिछले 100 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. इसके अलावा, राजस्थान, हरियाणा, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार भी भीषण गर्मी की चपेट में हैं. कई राज्यों के स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां हैं लेकिन बिहार में अभी भी पढ़ाई चल रही है. बुधवार को, बिहार के बेगूसराय और शेखपुरा में करीब 50 स्कूली छात्राएं बेहोश होकर क्लास रूम में गिर गईं।

सभी डीएम को दिया आदेश-

Advertisements
Ad 2

भीषण गर्मी की वजह से कई जिलों में स्कूली छात्रों के बेहोश होने के मामले सामने आने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मे बड़ा एक्शन लेते हुए सभी स्कूलों को बंद करने को लेकर मुख्य सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा को निर्देश जारी किया था. सीएम नीतीश के हरकत में आते ही मुख्य सचिव ने क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक बुलाई, जिसके बाद स्कूल बंद करने का निर्णय लिया गया. जिलाधिकारियों को भेजे पत्र में मुख्य सचिव ने कहा है कि भीषण गर्मी एक लू से बचने के उपाय से संबंधित कार्रवाई सुनिश्चत करें. सरकार ने कहा है कि कुछ दिनों से अप्रत्याशित भीषण गर्मी के साथ लू (Heat wave) के प्रकोप में अधिकांश जिले हैं। कई जिलों में जैसे गया, औरंगाबाद,कैमूर में तापमान 46°C से भी ज्यादा दर्ज किया जा रहा है।

यही स्थिति अन्य जिलों की भी है। आज आपदा प्रबंधन समूह (CMG) की बैठक हुई. जिसमें IMD (भारतीय मौसम विज्ञान विभाग) के प्रतिनिधि ने अपने अनुमान में बताया है कि ऐसी स्थिति 8 जून तक बने रहने की संभावना है। ऐसे में यह निर्णय लिया गया है कि सभी सरकारी एवं निजी विद्यालय (कोचिंग संस्थान सहित) एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में 30 मई, 2024 से ৪ जून, 2024 तक शिक्षण कार्य बन्द रखा जाए ताकि भीषण गर्मी के प्रकोप से बच्चों को बचाया जा सके। मुख्य सचिव ने कहा है कि भीषण गर्मी एवं लू से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग, द्वारा निर्गत गाईडलाईन तथा इस संबंध में विभिन्न विभागों के द्वारा निर्गत मानक संचालन प्रक्रिया (SOP)/मार्गदर्शिकाके अनुरूप कार्रवाई करना सुनिश्चित किया जाए।

Related posts

BREAKING : बिहार में बालू खनन पर लगी रोक

केंद्र सरकार नीट मामले में अपने लोगों और एनटीए को बचाने में लगी हुई है : एजाज अहमद

रुपौली विधानसभा उपचुनाव में एनडीए समर्थित जदयू प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित : उमेश सिंह कुशवाहा