बिहार

सीमावर्ती महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतु 56वीं वाहिनी द्वारा जोगबनी में किया गया 20 दिवसीय निःशुल्क ब्यूटीशियन कोर्स का शुभारंभ

अररिया, रंजीत ठाकुर। 56वीं बटालियन सशस्त्र सीमा बल बथनाहा द्वारा सीमावर्ती गांव में नियमित रूप से कौशल विकास प्रशिक्षण चलाया जा रहा है । इसी कड़ी में आज सोमवार 18 दिसंबर 2023 को 56वीं वाहिनी द्वारा प्राथमिक विद्यालय खजूरबारी, जोगबनी में सीमावर्ती महिलाओं के लिए 20 दिवसीय निःशुल्क ब्यूटीशियन कोर्स का शुभारंभ कराया गया। यह कोर्स खजुरवारी स्कूल में उषा बुटीक फारबिसगंज द्वारा चलाया जाएगा, जिससे कि सीमावर्ती महिलाएं सुविधाजनक तरीके से अपने गांव में ही रहकर कोर्स को संपन्न कर सके ।

मौके पर उपस्थित समस्त महिला प्रशिक्षुओं को संबोधित करते हुए 56वीं वाहिनी के कार्यवाहक कमांडेंट कस्तूरी लाल ने कहा कि सेवा, सुरक्षा व बंधुत्व के मूल ध्येय वाक्य के साथ सशस्त्र सीमा बल आप सभी के सेवा और सुरक्षा के लिए सदैव तत्पर है। उन्होंने कहा कि इस प्रशिक्षण को शुभारंभ करने का मूल उद्देश्य है कि आप सभी आत्मनिर्भर बनें और सम्मानपूर्वक जीवन व्यतीत करें। मैं यहां उपस्थित समस्त महिला प्रशिक्षुओं को कोर्स के शुभारंभ पर हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई देता हूं और आशा करता हूं कि आप सभी नियमित रूप से कोर्स को पूर्ण करेंगे एवं कौशल विकास प्रशिक्षण को सफल बनाएंगे।

उन्होंने कहा कि हमारे देश की महिलाएं जब आत्मनिर्भर होंगी तब हमारे देश का सर्वांगीण विकास संभव हो पाएगा । उन्होंने कहा कि आप सभी सशस्त्र सीमा बल द्वारा चलाए जा रहे नागरिक कल्याण कार्यक्रम के तहत विभिन्न कौशल विकास प्रशिक्षण, निशुल्क मानव चिकित्सा शिविर एवं निशुल्क पशु चिकित्सा शिविर वह समय-समय पर लगाए जा रहे फ्री मेडिकल चेकअप ओपीडी में शामिल हों और इसका लाभ उठाएं।

Advertisements
Ad 2

कार्यक्रम में उषा बुटीक स्कूल फारबिसगंज की मैनेजर श्रीमती सविता ठाकुर द्वारा आगामी 20 दिवसीय ब्यूटीशियन कोर्स के पाठ्यक्रम के बारे में उपस्थित समस्त महिला प्रशिक्षु को विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई।

कार्यक्रम में उपस्थित स्थानीय जनप्रतिनिधि श्रीमती रानी देवी,मुख्य पार्षद नगर परिषद जोगबनी, मोहम्मद मुस्ताक आलम, वार्ड पार्षद, जोगबनी नगर परिषद,मोहम्मद जफर आदिल एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों द्वारा संचालित इस कार्यक्रम की काफी सराहना की गई।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा शिक्षित करने एवं केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल में ज्वाइन करने हेतु प्रेरित किया गया। कार्यक्रम में 56वीं वहिनी के उप कमांडेंट श्री पूर्णेन्दु प्रभाकर, ए कंपनी प्रभारी निरीक्षक हरबंश लाल, उषा बूटीक की प्रशिक्षिका रंजना कुमारी, श्रीमती जुली सरकार, महिला प्रशिक्षु, स्थानीय ग्रामीण, एसएसबी के कार्मिक उपस्थित थे।

Related posts

गलत के खिलाफ उठाए आवाज और जागरूक होकर बच्चों को सही राह दिखाएं मुस्लिम महिलाएं : बुशरा रहमान

सौ बेड का हो गया कर्मचारी राज्य आदर्श बीमा अस्पताल

भूमि विवाद में जम कर चली गोली, गिरा दिया चहारदीवारी

error: