क्राइमबिहार

बेरोजगार महिलाओं को नौकरी दिलाने के नाम पर संस्था द्वारा ठगी!

अररिया(रंजीत ठाकुर): बेरोजगार ग्रामीण महिलाओं को नौकरी देने के नाम पर रोजगार वर्ल्ड नामक संस्था द्वारा ठगी का मामला सामने आया है । गाँव की पढ़ी लिखी भोली भाली महिलाओं को रोजगार देने के नाम पर पहले 750 रुपया लेकर सदस्य बनाया जाता है और कहा जाता है कि आपको संस्था द्वारा रोजगार मुहैया कराया जाएगा और काम के बदले प्रति माह 5000 रुपया वेतन दिया जाएगा । जिसके झांसे में आकर महिलाएं अपना निबंधन संस्था के लोगो से करवा लिया करती है । लेकिन निबंधन करवाने के बाद उन्हें ग्रुप बनाकर 5 अलग अलग प्रशिक्षण सेंटर खोलने को कहा जाता है जबकि एक ग्रुप में 16 से ज्यादा प्रशिक्षनार्थियो को जोड़ने का शर्त रखा जाता है उसके बाद दो रोजगार मित्र,दो सुपरवाइजर ,एक सेन्टर मित्र बनाने का शर्त रखा जाता है हद तो यह कि संस्था से जुड़ने वाले सभी लोगो को 750 रुपया भुगतान कर ही जोड़ा जाता है.

वहीं ग्रुप में शामिल होने वाली सभी प्रशिक्षणार्थियों को भी संस्था के द्वारा निर्धारित निबंधन शुल्क जमा लेने के बाद सिलाई प्रक्षिक्षण , कढ़ाई बुनाई ,गुड़िया व गिफ्ट निर्माण ,पेंटिंग आदि सहित कुल 9 तरह का प्रशिक्षण देने की बात कही जाती है एक वार सदस्य बन जाने के बाद शर्त पर शर्त रखा जाता है । जबकि कई ग्रामीण महिलाओं ने सेंटर खोलने के लिए निर्धारित मापदंड को पूरा करने के भी चार माह बीत जाने के बाद भी संस्था के लोगो के द्वारा सेंटर नहीं खोला गया । नरपतगंज प्रखंड श्यामनगर गाँव की महिला कंचन कुमारी , कोमल कुमारी ने आपबीती सुनाते कहा कि ब्रजेश कुमार एव गुरुचरण नामक दो व्यक्तियों द्वारा मेरे घर आकर कहा गया था कि आपके द्वार महिलाओं को जो प्रक्षिक्षण दिया जाएगा उसके बदले में आपको 5000 रुपया प्रति माह भुगतान किया जाएगा. लेकिन पंजीयन कराने के बाद जब जब भी मोबाईल पर सेंटर खोलने के लिए कहा गया तो हर बार उन्होंने समय देकर भी नही आए.

Advertisements
Ad 2

लेकिन अब वे लोग मोबाईल फोन भी ऋषिव नहीं कर रहे हैं महिलाओं ने कहा कि गाँव में सैकड़ो महिलाओं से प्रक्षिक्षण दिलाने के लिए रुपए लिए गए लेकिन लगभग सभी के साथ धोखा ही हुवा । इस बाबत संस्था के राष्ट्रीय सचिव सह संस्थापक राम कुमार यादव ने विगत रविवार को ही पीड़ित महिलाओं से कहा था कि अगर किसी कारणवश सेंटर नहीं खुल पाया है तो सभी पंजीकृत महिला सदस्यों को जमा राशि दो दिन में वापस कर दिया जाएगा लेकिन एक सप्ताह के लगभग गुजर जाने के बाद भी अभीतक न तो संस्था के कोई सदस्य मिलने आए और न ही रुपया ही वापस किया गया है । जिस कारण महिलाओं में संस्था के लोगों के प्रति रोष व्याप्त है ।

Related posts

गलत के खिलाफ उठाए आवाज और जागरूक होकर बच्चों को सही राह दिखाएं मुस्लिम महिलाएं : बुशरा रहमान

सौ बेड का हो गया कर्मचारी राज्य आदर्श बीमा अस्पताल

भूमि विवाद में जम कर चली गोली, गिरा दिया चहारदीवारी

error: