अब थाने दौड़ने की जरूरत नहीं, मोबाइल से होगा FIR

पटना: आम जनता के लिए बिहार पुलिस ने एक नई पहल की शुरुआत की है. जिस काम के लिए आपको थाने के चक्कर लगाते-लगाते जो परेशानियां झेलनी पड़ती थी अब इन सब से आप मुक्त हो रहे है. दरअसल बिहार पुलिस अब एफआईआर या सनहा मोबाइल से ही दर्ज कर लेगी. जिससे लोगों को काफी हद तक राहत मिलेगी. जिन लोगों की बाइक, मोबाइल चोरी हो जाए या पर्स गुम हो जाये उसकी प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए थाने का चक्कर काटने की कोई जरूरत नहीं. बिहार पुलिस अब व्हाट्सएप के जरिए ही आवेदन लेगी और प्राथमिकी या सनहा दर्ज करेगी.

पूरी जानकारी व्हाट्सएप्प करें-

किसी भी आवेदक को एप्लीकेशन के साथ अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर और पूरा घटनाक्रम लिखकर भेजना होगा. जब आवेदक व्हाट्सएप के जरिए इन सारी जानकारियों के साथ अपना आवेदन भेजेगा तो उसके बाद आइजी और संबंधित जिले के पुलिस अधीक्षक के कार्यालय से आवेदन की मॉनीटरिंग होगी. फिर उसके बाद संबंधित थाने में आवेदन पर नियमानुसार कार्यवाही करने के बाद आइजी कार्यालय के मोबाइल नंबर पर आवेदन वापस भेज दिया जायेगा, जहां से उसको फरियादी के मोबाइल पर भेजा जायेगा. यदि आवेदक को आवेदन की मूल प्रति या सनहा की कॉपी चाहिए तो वह थाने पर जाकर प्राप्त कर सकता है. तिरहुत रेंज के आइजी ने पब्लिक फ्रेंडली पुलिसिंग के तहत व्हाट्सएप नंबर 7070201201 जारी किया है. इस पर मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, शिवहर और वैशाली जिलों के लोग अवेदन दे सकते हैं।