चक्रवाती तूफान “यास” से निपटने के लिए एनडीआरएफ टीमें राहत व बचाव में जुटी

बिहटा(आनंद मोहन): 9वीं वाहिनी राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की सभी 19 टीमें चक्रवाती तूफान “यास” से निपटने के लिए कमान्डेंट विजय सिन्हा, 9वीं बटालियन एन0डी0आर0एफ0 के नेतृत्व में उडीसा, झारखण्‍ड और बिहार के विभिन्‍न जिलो में अत्याधुनिक आपदा प्रबंधन तथा संचार उपकरणों से लैस तैनात है। विदित है कि चक्रवा‍ती तुफान के खतरे को देखते हुए पहले से ही राज्‍य सरकार द्वारा अपने अपने राज्‍य में हाई अलर्ट जारी दिया गया था। जिसको देखते हुए 9वीं बटालियन एनडीआरएफ की टीमें उडीसा, झारखण्‍ड, बिहार और पश्चिम बंगाल में बचाव एवं राहत कार्यो के लिए तैनात हो चुकी हैं।
कमान्डेंट विजय सिन्हा ने बताया कि चक्रवात ‘’यास’’ से निपटने के लिए सभी टीमें पश्चिमबंगाल, उडीसा, झारखण्‍ड और बिहार के विभिन्‍न जिलो में तैनात हैं। इन टीमों के कुल लगभग 500 बचावकर्मी शामिल हैं जो चक्रवाती तूफान यास के दौरान हर चुनौती का सामना करने तथा आपदा की घडी में स्‍थानीय लोगों को हर सम्‍भव मदद करने को तैयार है। इस दौरान एनडीआरएफ के बचावकर्मी विभिन्‍न जिलों में इस चक्रवाती तूफान से बचने के लिए लोगों के बीच कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के सभी दिशा-निर्देशो का पालन करते हुए स्‍थानीय लोगों के बीच जागरूकता का कार्यक्रम भी चला रहें हैं तथा सम्‍भावित खतरो को देखते हुए उन्‍हे सुरक्षित जगहो पर पहॅुचा रहे हैं।