छात्र छात्राओं को सांस्कृतिक अमूल्य धरोहरों से परिचय कराना जरूरी : गुरु प्रेम

 छात्र छात्राओं को सांस्कृतिक अमूल्य धरोहरों से परिचय कराना जरूरी : गुरु प्रेम
Advertisement

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पटना के संपतचक बैरिया स्थित मां शारदा पुरम के प्रेमालोक मिशन स्कूल में रामायण कक्ष का उद्धघाटन पी एम सी एच के प्रो डॉ अजय कृष्ण के द्वारा किया गया। प्रोफेसर डॉ अजय कृष्ण ने कहा कि विद्यालयों में छात्र छात्राओं को अपने धर्म संस्कृति सभ्यता के प्रति शिक्षित कराना चाहिए । यह जानकर बहुत अच्छा लगा की प्रेमालोक मिशन स्कूल में शिक्षा पर्यावरण संस्कार के साथ संस्कृति व नैतिक मूल्यों की शिक्षा भी दी जाती है। छात्र छात्राओं को महाभारत की शिक्षा, रामायण की शिक्षा , गीता और जाति, वर्ग एवं धर्म से परे सभी आध्यात्मिक मूल्यों की शिक्षा दी जानी चाहिए। आजकल हमारे बच्चे अपना संस्कार भूलते जा रहे हैं और समाज में हिंसा का बोलबाला बढ़ा है ऐसे में स्कूलों से ही युवाओं को सही मार्ग दिखाया जा सकता है।

Advertisement
Advertisement

विद्यालय निदेशक गुरु प्रेम ने कहा कि आज के बिगड़ते सामाजिक परिवेश को देखते हुए छात्र छात्राओ को भारत के सांस्कृतिक मूल्यों के बारे में शिक्षित करके उन्हें संस्कृति के प्रति लगाव और झुकाव बेहद जरुरी है। शिक्षा एवं संस्कृति के साथ सामंजस्य से सामाज में नैतिक मूल्यों का पतन रोका जा सकता है। विद्यालय निदेशक ग्रुप प्रेम ने बताया कि विद्यालय की प्राचार्या , उप प्राचार्या एवं चीफ मेन्टर इसी कक्ष से विद्यालय के मिशन का नेतृत्व करेंगी।

Advertisements

न्यूज़ क्राइम 24 संवाददाता

Related post