बीएनआरसी बार-बार दोहरा रही है एक ही गलती : आप

पटना: जीएनएम कोर्स के छात्र- छात्राओं ने आम आदमी पार्टी’ के राज्यसभा सांसद संजय सिंह से गुहार लगाई है। जीएनएम कोर्स 2016- 19 के अभ्यर्थियों का प्रतिनिधि मंडल ने पार्टी प्रवक्ता बबलू कुमार प्रकाश से मुलाकात किया और सांसद संजय सिंह के नाम ज्ञापन सौपा.

जीएनएम अभियर्थियों ने कहा कि बिहार के विभिन्न मेडिकल कॉलेज में संचालित जीएनएम कोर्स 2016- 19 के छात्राएं है। बिहार परिचारिका निबंधन परिषद के टालमोल रवैया के कारण परीक्षा परिणाम प्रकाशित नही किया गया है। जिसके कारण हजारो जीएनएम अभियर्थियों का जीवन अंधकार में जा रहा है.
छात्राओं ने बताया कि- राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार के द्वारा 4102 ग्रेड ‘ए’ नर्स स्टाफ पद के लिए विज्ञापन निकाला गया है, जिसका अंतिम तिथि 20 जनवरी 2021 है। बिहार में जीएनएम कोर्स 2016- 19 का सत्र एक साल विलम्ब से चल रहा है, परीक्षा देर से लिया गया, और अबतक रिजल्ट भी जारी नही किया गया। परीक्षाफल व रजिस्ट्रेशन के अभाव में बिहार के हजारों जीएनएम छात्र नर्स बहाली के लिए आवेदन नही कर पाएंगे। स्वास्थ विभाग एवं बीएनआरसी द्वारा की गई लापरवाही का खामियाजा बिहार के हजारों जीएनएम अभियर्थियों को भुगतना पड़ रहा है, और एक साजिश के तहत दूसरे राज्यों के जीएनएम छात्राओं को बिहार के सरकारी अस्पतालों में बहाल करने की तैयारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही है.
छात्राओं ने बिहार के मुख्यमंत्री से मांग किया है कि स्वास्थ्य विभाग, अबिलम्ब जीएनएम 2016-19 सत्र का परीक्षाफल प्रकाशित करें और राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार के द्वारा निकाले गए विज्ञापन का अंतिम तिथि परीक्षाफल जारी होने तक बढ़ाया जाए ताकि बिहार के हजारो जीएनएम छात्राएं आवेदन कर सके.
आम आदमी पार्टी बिहार के प्रदेश प्रवक्ता बबलू कुमार प्रकाश ने कहा कि बीएनआरसी द्वारा बार-बार एक ही गलती दोहराई जा रही है। पूर्व में भी जीएनएम कोर्स 2015-18 के अभ्यर्थियों के साथ इस प्रकार की घटना घटी थी। ‘आप’ सांसद संजय सिंह के अथक प्रयास के कारण 2015- 18 बैच के अभ्यर्थियों को बिहार तकनीकी आयोग द्वारा निकाली गई बहाली में सम्मलित होने का मौका मिला और आज वो सभी अभियार्थी बिहार के अलग- अलग सरकारी अस्पतालों में पदस्थापित है.
बबलू ने कहा कि जीएनएम अभियर्थियों के मांगो पर बिहार सरकार अविलंब ध्यान दें और लंवित परीक्षाफल प्रकाशित करें ताकि बिहार के हजारों जीएनएम अभियार्थी को राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार के द्वारा निकाले गए विज्ञापन में शामिल होने का मौका मिल सके।