बिहार

भरगामा : शंकरपुर पंचायत सचिव रहते हैं अपने कार्यालय से गायब, एसडीओ ने दी चेतावनी

अररिया, रंजीत ठाकुर। अररिया जिले के भरगामा प्रखंड के ग्राम पंचायत शंकरपुर में पंचायत सरकार भवन को बने कई वर्ष बीत चुके हैं। लेकिन अभी भी पंचायत सचिव यहां नहीं बैठते हैं। पंचायत भवन में अक्सर ताला बंद रहता है। ग्रामीणों का कहना है कि पंचायत भवन जिस मकसद से बना था वह सफल नहीं हो रहा है। पंचायत के स्थानीय ग्रामीण राजू कुमार,संजीव कुमार,विनोद कुमार,सुलेखा देवी,रेखा देवी,सुलोचना देवी आदि ने बताया कि पंचायत सचिव के नियमित रूप से नहीं बैठने से आमलोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। जन्म,मृत्यु प्रमाण पत्र,विवाह या फिर कोई अन्य जानकारी या कामों के लिए प्रखंड कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है। बताया जाता है कि पंचायत सचिव सतेन्द्र कुमार अपने निजी कामों के कारण नियमित नहीं आ पाते हैं। जिससे आमलोगों को परेशानी हो रही है। ज्ञात हो कि सरकारी कर्मी नियमित रूप से बैठकर आम जनता का कार्य करें इसलिए पंचायत सरकार भवन बनाया गया है। लेकिन यहां ना तो सचिव आते हैं ना अन्य कोई कर्मी।

अधिक काम हो जाने के कारण हर रोज नहीं जा पाते पंचायत सरकार भवन

शंकरपुर पंचायत सचिव सतेन्द्र कुमार ने बताया कि प्रखंड का भी काम रहता है सिमरबनी पंचायत का भी काम रहता है और शंकरपुर पंचायत का भी काम रहता है जिसके वजह से हर रोज पंचायत सरकार भवन में नहीं बैठ पाते हैं।

Advertisements
Ad 2

नियमानुसार कार्रवाई होगी

नियमित रूप से पंचायत भवन में बैठने का आदेश दे चुके हैं,अगर पंचायत सरकार भवन के कोई कर्मी या पदाधिकारी पंचायत भवन से नदारद रहते हैं तो उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

Related posts

सीटी स्कैन सेंटर से अब तक लाभान्वित हो चुके हैं 30 हजार से अधिक लोग

जिले के 51 टीबी मरीजों को पौष्टिक आहार सेवन के लिए किया गया फूड वितरण

अभियान 40 आईएएस करेंट अफेयर्स पत्रिका का लोकार्पण