सामूहिक विवाह समारोह में एक- दूसरे को वरमाला पहनाते जोड़ें

धनबाद: सामूहिक विवाह समिति के तत्वाधान में गोल्फ ग्राउंड से इलेक्ट्रॉनिक तीन पहिये टोटो वाहन पर दूल्हों की बारात निकली। वहीं दुल्हन का साज श्रृंगार किया गया। आम जन बाराती बने और गायत्री परिवार के लोग पंडित। समिति के लोगों ने वर वधु पक्ष के रिश्तेदारों का स्वागत भी किया।धनबाद कोलफील्ड का ऐतिहासिक गोल्फ ग्राउंड रविवार को सर्वधर्म सामूहिक विवाह का साक्षी बना। सैकड़ों शहरवासी इस अनूठे विवाह आयोजन के गवाह बने। शहरवासियों ने नवदंपत्ति जोड़ों को आशीर्वाद दिया। बैंड बाजा के साथ धूमधाम से बारात निकाली गई तथा धार्मिक रीति रिवाज के साथ विवाह संपन्न कराया गया। दहेज मुक्त विवाह की परिकल्पना पर आयोजित इस सामूहिक विवाह में 14 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे। समिति के सातवें आयोजन में इस वर्ष भी हर तबके व समुदाय ने भागीदारी निभाई और मानवता की मिसाल पेश की.

कार्यक्रम का आरंभ सुबह 10.30 बजे सामूहिक विवाह समिति के तत्वाधान में गोल्फ ग्राउंड से इलेक्ट्रॉनिक तीन पहिये टोटो वाहन पर दूल्हों की बारात निकली। वहीं, दुल्हन का साज श्रृंगार किया गया। आम जन बाराती बने और गायत्री परिवार के लोग पंडित। समिति के लोगों ने वर वधु पक्ष के रिश्तेदारों का स्वागत भी किया। समधी मिलन हुआ। उसके उपरांत गोल्फ ग्राउंड में बने 80-20 के मंच पर एक साथ सभी 14 जोड़ों का जयमाला कराया गया। पूरा ग्राउंड तालियों से गूंजने लगा। मौजूद लोगों ने वर-वधु को मंगल कामना का आशीर्वाद दिया। समिति के अध्यक्ष प्रदीप कुमार सिंह ने कहा कि लोगों को एक बार जयमाला देखने का मौका मिलता है, लेकिन समिति के आयोजन में एक साथ कई जयमाला देखने को मिल रहे हैं। यह सौभाग्य की बात है। कोरोना को लेकर इस बार कार्यक्रम स्थगित होन था, लेकिन ईश्वर की कृपा से यह आयोजन नहीं रुका। 14 जोड़ों का विवाह कराया गया है।