क्राइमताजा खबरेंबिहार

फुलवारी में 24 वर्षीय युवक की गोली मारकर हत्या

Advertisements
Ad 4

फुलवारी शरीफ, अजीत। राजधानी पटना के फुलवारी शरीफ में सुबह-सुबह युवक की गोली मारकर हत्या कर फेंका हुआ लाश मिलने के बाद सनसनी फैल गई. मृतक की पहचान फुलवारी शरीफ थाना क्षेत्र के आलमपुर में रहने वाले मनोज यादव के 24 वर्षीय पुत्र विकास कुमार के रूप में होते परिजनों में कोहराम मच गया. विकास मंगलवार की शाम से ही लापता था. परिवार वालों का कहना है कि विकास ने अपने दोस्त सूरज को 10 लख रुपए व्यापार मे दिया था. सूरज ने ही मंगलवार की शाम विकास को कॉल कर रुपए देने के लिए बुलाया. देर रात जब विकास का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया तो परिजन बेचैन होकर उसे खोजने लगे थाना पुलिस को भी सूचना दी गई. बुधवार की सुबह-सुबह करीब 3: बजे मिशन के पास आहर में विकास की बाइक देख लोगों ने उसके शव को बाधार में ढूंढ निकाला. विकास को गोली मार कर हत्या की गई है मौके पर पहुंची पुलिस छानबीन में जुट गई है.वहीं घटना स्थल पर लोगों की भीड़ जमा है. परिवार वाले शव के पास ही रो बिलख रहे हैं.
गांव के लोगों ने बताया कि विकास कुमार शाम के बाद घर नहीं लौटा. देर रात उसका मोबाइल ऑफ होने पर परिजन ने फुलवारी थाना को भी सूचना दिया. पुलिस और परिजन विकास की तलाश कर ही रहे थे कि भोर में 3:00 बजे उसकी मोटरसाइकिल फुलवारी शरीफ मिशन रोड के मिशन के पीछे आहर पर फेंका हुआ मिला. इसके बाद परिजन खेत में गए तो कुरकुरी मूसहरी से दक्षिण ढ़िबड़ा के चवर में मिशन से उत्तर गोली मारकर फेंका हुआ विकास का शव मिला।

मृतक विकास की 1 साल पहले शादी हुई थी. फिलहाल उसकी पत्नी गर्भवती है जिसका रो-रो कर बुरा हाल हो रहा है. मृतक के पिता मनोज पेंटिंग का काम करते हैं और पेंटिंग कारोबार के ठेकेदारी भी करते हैं. मृतक के माता-पिता समेत पूरे परिवार में रोना पीटना मचा हुआ है. परिवार वाले रोड रोकर यही बात पुलिस को बता रहे हैं कि नैन चक में अपनी मौसी के घर रहने वाला सूरज को विकास ने 10 लाख रुपया दिया था. सूरज बार-बार पैसा देने में आनाकानी कर रहा था. मंगलवार को शाम में उसने कॉल करके विकास को बुलाया था. मृतक की पत्नी का कहना है कि देर शाम 7:00 बजे विकास से अंतिम बार बात हुई तो उसने बताया कि वह सूरज के साथ है. परिवार वाले का स्पष्ट आरोप है की सूरज ने हीं विकास की गोली मार कर हत्या कर दी है। घटना स्थल पर ए एसपी फुलवारी शरीफ विक्रम सेहाग थाना अध्यक्ष सफीर आलम दलबल के साथ पहुंचकर तहकीकात करने में लगे हुए हैं।

Advertisements
Ad 2

वहीं युवक की हत्या की सूचना मिलने पर फुलवारी शरीफ विधायक गोपाल रविदास भी मौके पर पहुंचे और परिवार वालों को संतवाना देते हुए परिवार को न्याय का भरोसा दिलाया. विधायक गोपाल रविदास ने पुलिस ऑफीसरों से हत्याकांड में शामिल अपराधियों को जल्द गिरफ्तार करने, मृतक के परिवार को 20 लाख रुपया मुआवजा देने की मांग की।

Related posts

नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दाहाल से इंडो – नेपाल व्यापार वार्ता सफल रहा – अशोक

BREAKING : बिहार में बालू खनन पर लगी रोक

केंद्र सरकार नीट मामले में अपने लोगों और एनटीए को बचाने में लगी हुई है : एजाज अहमद