बिजली तार के चपेट में आने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत!

अररिया(रंजीत ठाकुर): फारबिसगंज प्रखंड क्षेत्र के रमई पंचायत कामत टोला के घोड़ा घाट वार्ड संख्या-02 में गुरुवार की दोपहर एक ही परिवार के तीन सदस्य की मौत बिजली तार के चपेट में आने घटनास्थल पर ही हो गई। मौत की खबर सुनते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया। घटना की सूचना स्थानीय थाना पुलिस को दी जाने के बात ग्रामीणों द्वारा कही गई।वहीं स्थानीय लोगों ने फारबिसगंज विधुत विभाग को फोन कर करेंट कटवाया। घटना के संबंध में बताया जाता है कि मृतक एक ही परिवार के दादा पोता एवं पुतहु है। मृतक में 50 वर्षीय नैरुद्दीन पिता संहगु मियां, 28 वर्षीय मदीसन पति मो०विक्रम मियां एवं 7 वर्षीय साहिल पिता विक्रम मियां शामिल है। घटना के सम्बंध में ग्रामीणों ने बताया कि नैरूउद्दीन अपने गेंहू के खेत में पानी पटवन रहा था। वही पास में ही उसका पोता साहिल भी था खेत के बगल से ही हाई बोल्ट बिजली का तार लगा है। बताया जाता है कि साहिल के जाने के क्रम में तार का अर्थ जमीन से सटा हुआ था। जिस कारण साहिल तार के चपेट में आ गया, जिससे वह वहीं गिर गया उसे बचाने गई उसकी मां भी उस जगह पहुंची वह भी उसके चपेट में आ गई। तभी उसके दादा भी बिना कुछ सोचे समझे बचाने गया वह भी उसके चपेट में आ गया जिससे तीनो की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। कुछ देर के बाद ग्रामीणों की नजर उस पर पड़ी तो कोहराम मच गया। ग्रामीणो ने तुरंत बिजली विभाग को फोन कर बिजली कटवाया तदोपरांत रस्सी के सहारे बांधकर तीनों को बाहर किया.

मृतक के छोटे पुत्र ने बताया कि वह चार भाई है जिसमे से तीन भाई दिल्ली में मजदूरी करता है। बताया कि मृतका को तीन पुत्र था जिसमें बड़े पुत्र सोहेल की मौत मृतका के साथ हो गया वही पति दिल्ली में ही मजदूरी करता है।इधर घटना स्थल पर पहुंचे फारबिसगंज पुलिस टीम के द्वारा तीनो शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिये अररिया भेज दिया गया तथा घटना की विस्तृत जानकारी लिया. घटना के बाद पूरा परिवार का रो रो कर बुरा हाल है। वही पूरे गांव में बिजली विभाग के खिलाफ आक्रोश पनप रहा है। लोगों का कहना है कि बिजली विभाग की लापरवाही के कारण है यह घटना घटी है। ग्रामीणों में दीपक, डॉक्टर मुस्तफा, साकिर, मंजूर आलम, उद्यनादन मंडल, परवेज, उपेन्द्र शाहनी, जावेद इमाम, बबलू , मुस्तकीम इत्यादि ने बिजली विभाग से मुवाज़े की मांग की है।