शादी के एक माह भी नही हुआ अब दुल्हन को रखने से किया इंकार

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): राजधानी पटना की सकरैचा में रहने वाले संजय साह के बेटे चुुुनचुन साव ने तारनपुर पंचायत अंतर्गत तारनपुर गांव निवासी युवती के साथ शिव मंदिर में लोगों की मौजूदगी में अग्नि के समक्ष सात फेरे लेकर सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खाई । शादी ब्याह के एक महीना भी नहीं बीते थे कि दूल्हे ने दुल्हन को अपने घर रखने से यह कहते हुए इनकार कर दिया उसके परिजन इस शादी से राजी नहीं है। बताया जाता है शादी के दौरान लड़की के मां से दूल्हा चुुुनचुन साव ने मुखिया चुनाव में खड़ा होने के लिए एक लाख कैश भी ठग लिया ।इसके अलावा क्षमता के अनुसार लड़की के घरवालों ने शादी में दान दहेज दिया । घटना की जानकारी मिलने से ग्रामीणों में आक्रोश का माहौल है। लड़की के परिजनों का कहना है इस मामले की सूचना गौरीचक परसा बाजार व जानीपुर थाना को जा कर दिया गया बावजूद किसी भी खाना में उनकी गुहार नहीं सुनी गई और ना ही मामला दर्ज किया गया। इसके बाद लड़की के गांव के लोगों ने दुल्हन को लड़के के घर पहुंचा दिया इसके बाद लड़का अपने पिता के साथ घर से फरार हो गए । वही दूल्हे के मां और बहन लड़की को तरह-तरह से प्रताड़ित करने लगे इतना ही नहीं अपने दोस्तों को लड़की के साथ छेड़खानी करने के लिए भेज दिया। थक हार कर के वापस अपने गांव तारनपुर लौट गई। दुल्हन के चेचेरे भाइ सुधीर ने बताया कि हमलोग काफी कोशिश करके पहले गौरीचक थाना गए वहां की पुलिस को मामला दर्ज करने की गुजारिश की । पुलिस को बताया गया कि 24 अप्रैल को तारणपुर के पास शिव मंदिर में सकरैचा निवासी सजंय साव के बेटे चुनचुन साव के साथ तारणपुर निवासी हलवाई का काम करने वाले किशोरी साव की बेटी रैंचो के साथ हुई थी। इस शादीी का वीडियो और फोटो भी मौजूद है।
शादी में ही चुनचुन साव ने दुल्हन की माँ से कहा कि वह आगामी मुखिया चुनाव में सकरैचा पंचायत से मुखिया प्रत्याशी के रूप में खड़ा होने जा रहा है जिसके लिए एक लाख रुपये भी उसने चुनाव लड़ने के नाम पर ले लिया। इसके कुछ ही दिनों बाद चुनचुन साव ने यह कहकर दुल्हन को वापस मायके भेज दिया की उसके घर वाले इस शादी से खुश नही है। बता दें कि दोनों में पहले से प्रेम प्रसंग चल रहा था जिसकी जानकारी होने पर ही दोनो की शादी मंदिर में कराई गई । शादी के एक माह भी नही बिता था और दुल्हन को रखने से इनकार करने कि जानकारी मिलने पर गाँव के लोगो मे आक्रोश का माहौल हो गया। इसके बाद पंचायती कराकर लड़के के परिवार को मनाने की हर सभव कोशिश की गयी लेकिन बात नही बनी। इसके बाद दूल्हन परीजनो और ग्रामीणों के साथ पहले गौरीचक थाना गयी और मामला दर्ज कर न्याय दिलाने की गुहार लगाई । बता दे की लड़की का घर तारणपुर गौरीचक थाना अंतर्गत आता है। वही जहाँ शादी हुई वह गौरीचक परसा बाजार और पुनपुन थाना क्षेत्र की सीमाऐं मिलती है। सकरैचा गांव में लड़के चुनचुन का घर हैं लेकिन वह।घर जानीपुर थाना क्षेत्र में पड़ता है । वहीं जब गांव वाले एकत्रित होकर लड़की को उसके ससुराल पहुंचा दिए तब लड़का अपने पिता के साथ फरार हो गया। इतना ही नही लड़के चुनचुन साव ने एक माह पहले अपनी ब्याहता पत्नी के साथ कुछ मनचलो को छेड़छाड़ करने घर मे भेज दिया ताकि लड़की उसके घर से चली जाए । पति की बेवफाई और मनचलों द्वारा भद्दी भद्दी अश्लील बातें सुनकर लड़की अपने घर व गाँव वालों को मोबाइल से सुचना दे देकर बुलाया। पीड़िता ने गांव और घर वालो को बताया की मनचले उसके कमरे का दरवाजा पिट रहे थे ,अगर कमरे का दरवाजा खोल देती तो उसके साथ गलत हो सकता था। इस दौरान चुनचुन साव के घर मे मौजूद उसकी माँ और बहन मनचलों को उकसाया रही थी। इतना सब बो जाने के बाद ही जानीपुर थाना को खबर दी गयी तब वहां पहुंची जानीपुर पुलिस लड़की और उसकी मां को लेकर थाना चली गयी लेकिन मामला दर्ज नही किया। पीड़ित परिवार और ग्रामीण पुलिस पर लड़के के परिवार से मिलीभगत का आरोप लगा रहे हैं । पीड़ित परिवार का कहना है कि आखिर किसके दबाव पर पुलिस मामला दर्ज नही कर रही है.

जानीपुर थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष मिश्रा जी ने बताया कि मामला मेरे संज्ञान में आया था। मुझे जानकारी मिली थी एक माह पहले शादी हुई है और अब लड़का पत्नी को रखने से इनकार कर रहा है। लड़का अपने पिता के साथ फरार हो गया था जब उसके घर छापेमारी की गई । लडक़ी के साथ लड़के का परीवार ज्यादती कर रहा है। हमने लड़की वालों को महिला थाना में जाकर मामला दर्ज कराने की सलाह दिया है।