विपक्षी दल झूठ फरेब की राजनीति से देश को अस्थिर करना चाहता है : प्रवीण कुमार

 विपक्षी दल झूठ फरेब की राजनीति से देश को अस्थिर करना चाहता है : प्रवीण कुमार
Advertisement

अररिया(रंजीत ठाकुर): विपक्षी दल झूठ फरेब की राजनीति से देश को अस्थिर करना चाहता है।कृषि कानूनों पर किसानों को ग़ुमराह करके अपनी दरकी हुई राजनीतिक जमीन को सहजने का विपक्षी दलों का षड्यंत्र इतिहास में काले अक्षरों में दर्ज होगा।उनके तमाम प्रयासों के बाबजूद देश पीएम मोदी के नेतृत्व में अबाध गति से बढ़ रहा है और लगातार बढ़ेगा । क़्यूँक़ी भारत को सामरिक ओर आर्थिक महाशक्ति के पथ पर अग्रसारित करना है। यह बात भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवीण कुमार ने भाजपा जिला मंत्री रोहित यादव, ओबीसी मोर्चा के प्रदेश मंत्री भानुप्रकाश राय, किसान मोर्चा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अविनाश झा, पंचायती राज प्रकोष्ठ के संयोजक राजेंद्र यादव संग आयोजित एक प्रेस वार्ता में किसानों की आड़ में विपक्षी दलों का देशभर रेल रोको आंदोलन पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कही.

Advertisement

प्रदेश उपाध्यक्ष श्री कुमार ने कहा कि मोदी सरकार किसानों के कल्याण के लिए कटिबद्ध है।जहाँ एक तरफ मोदी सरकार एमएसपी व्यवस्था में मूलभूत परिवर्तन किया है जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि सभी प्रकार के जिंसों के उत्पादन लागत का ढेढ गुणा मूल्य किसानोंको मिल सके उपज की खरीद भी अब तेजी से जारी रही है। किसानों को पर्याप्त भुगतान किये जाने के मामले में उत्तरोत्तर बढ़ोतरी हुई है मोदी सरकार किसानों के आर्थिक उन्नत्ति के संकल्प के साथ निरंतर आगे बढ़ रही है।जिसके तहत वर्ष 2020 21में किसानों के गेहूँ के उपज का 75,060 करोड़ रुपया के भुगतान के साथ 43.36 लाख किसानों से गेहूँ क्रय किया गया है।जबकि 2019 20 में 1.24 करोड़ किसानों से धान खरीद की गई जबकि इस वर्ष बढ़कर 1.54 करोड़ हो गया है।उसी तरह दालों के उपज का 8,285करोड़ रुपये कपास का 25,974 रुपये का भुगतान किया गया है।सरकार की कोशिश है आगामी 5 वर्षों में 10 हज़ार नये कपास केंद्र खोले जाएंगे। तो दूसरी और पूरा विपक्ष किसानों को आय दुगुना करने के साथ उनके आवास शौचालय,किसान सम्मान निधि सहित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से घबराकर देश में अलगावाद का बीज बो रही है.

Advertisements
Advertisement

श्री कुमार ने सवालिया लहजे में कहा कि कांग्रेस राजद सहित तमाम विपक्षी दलों को स्पष्ट करना चाहिए कि वे किसानों के हित के साथ है या किसानों के समर्थन के नाम पर प्रतिबंधित आतंकी संगठन खालिस्तान के अलगाववादी सोच के साथ। मोके पर जिला मंत्री रोहित यादव किसान मोर्चा के अविनाश झा, ओबीसी मोर्चा के प्रदेश मंत्री भानुप्रकाश, राजेंद्र यादव सहित अनेकों कार्यकर्ता मौजूद थे।

News Crime 24 Desk

Related post