कुत्तों का आतंक, भेड़ों के बाड़े में घुसकर दर्जनो भेड़ो को काट खाया, 45 की मौत!

 कुत्तों का आतंक, भेड़ों के बाड़े में घुसकर दर्जनो भेड़ो को काट खाया, 45 की मौत!
Advertisement
Ad 3
Advertisement
Ad 4
Digiqole Ad

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पटना के फुलवारी शरीफ गोनपुरा गांव में भेड़ों के बाड़े में देर रात घुसकर कर कुत्तों ने आतंक मचाते हुए दर्जनों भेड़ों को काट खाया। इस हमले में कुत्तों के काटने से 45 भेड़ों की मौत हो गई। भेड़ियों के चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर भेड़ियों के मालिक दौड़े दौड़े पहुंचे और कुत्तों को खदेड़ दिया । भेड़ियों के मालिक सुखु भगत ने बताया कि वे बेगमपुरा गांव के निवासी हैं और उनका मुख्य पेशा भेड़ का व्यापार है । उन्होंने बताया कि बीती रात लगभग 12:00 बजे आवारा कुत्तों का एक झुंड उनके भेड़ियों के बारे में घुसकर भेड़ो  पर हमला कर दिया और काटना शुरू कर दिया । इस हमले में 38 भेंड़ मर गए और कई भेड़ घायल भी हो गए हैं ।वहीँ उनके ही परिवार के 17 भेड़ो की मौत हुई है।  घटना की सूचना मिलते ही गांव में हड़कंप मच गया और लोग अपने-अपने घरों से डंडा लेकर आवारा कुत्तों की तलाश में निकल पड़े । ईतनी बड़ी संख्या में भेड़ों को खून से लथपथ मृत पड़ा देख भेड़पालक  चित्कार मार कर रोने लगा। मौके पर जमा सैकड़ों ग्रामीणों ने प्रशासन से भेड़ पालक को मुआवजा दिलाने की मांग की। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंचे स्थानीय माले विधायक गोपाल रविदास ने घटना को अफसोस जनक बताया। भेड़ पालक जगदीश पाल सुरेश पाल सुखु भगत घायल हालात में तड़प रहे भेड़ो का इलाज पशु चिकित्सक से कराने और मुआवजा दिलाने की गुहार लगाई है।  विधायक ने प्रशासनिक अधिकारियों से बातचीत कर भेड़ पालकों को मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया है। घटना की सूचना फुलवारीशरीफ थाने को दी गई। शनिवार की सुबह फुलवारीशरीफ थाने के पदाधिकारी दल बल के साथ गोंनपूरा गांव पहुंचे और मामले की छानबीन शुरू कर दी । थाने के एक पदाधिकारी ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है और प्रथम दृष्टया में यह प्रतीत होता है कि बाड़े में बंद भेड़ियों को कुत्ते ने ही काटा है जिससे उनकी मौत हो गई है।

Advertisement
GOLU BHAI
Advertisement
MS BAG
Digiqole Ad

Advertisement
Ad 2

News Crime 24 Desk

Related post

error: Content is protected !!