दस सालों बाद सड़क मरम्मत कराने के लिए विभाग की टूटी नींद!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पटना के सम्पत चक प्रखण्ड अंतर्गत आने वाले पिपरा गांव में सैदानी चक से पिपरा मोड़ तक करीब एक किलोमीटर की वर्षो से जर्जर उबर खाबर सड़क का निर्माण ग्रामीण कार्य विभाग ने शुरू कराया तो ग्रामीणों ने अधिकारियों को घेरा । ग्रामीणों ने कहा को दस सालों से इस जर्जर सड़क का निर्माण कार्य कराने के लिए विभागीय अधिकारियों की नींद टूट रही थी । इस बरसात के पहले आनन फानन सड़क का मरमत कार्य शुरू कराये जाने पर मौके पर मौजूद अधिकारियों से जब ग्रामीणों ने जबाव तलब करना शुरू किया तक उनके पास कोई जवाब नही था। पिपरा पूल से सैदानी चक तक पत्थर राबिश से मरम्मत निर्माण कार्य शुरू कराया गया है। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि इस सड़क का निर्माण करीब दस साल पहले हुआ था। उस समय घटिया निर्माण सामग्री का इस्तेमाल हुआ था। अब जब दस सालों तक यहाँ के लोगो ने काफी परेशानियों को सहते हुए सड़क निर्माण की मांग कर रहे थे तब बारीश के बीच आनन फानन निर्माण कराया जा रहा है, जिसमे निर्माण सामग्री की गुणवत्ता पर सवालिया निशान उठ रहे हैं। स्तानीय लोगों का कहना है कि सड़क मरम्मत कार्य गुणवत्तापूर्ण नही हो रहा है ।स्थानीय निवासी वेद प्रकाश ने बताया कि कई गांवो को जोड़ने वाली इस सड़क का पिपरा पूल से सैदानी चक मोड़ तक ही मरम्मत कार्य कराया जा रहा है जिसके बारे में अधिकारियों से पूछने पर सही जानकारी नही दी जा  रही है। ग्रामीण यह जानना चाहते हैं कि इस  निर्माण कार्य के लिए क्या राशि खर्च हो रही है औऱ कितना इंच भराई होना है। इतने वर्ष तक कोई इस सड़क निर्माण की सुधि नही ले रहा था और अब दूसरे ठेकेदार से आनन फानन मरम्मत कराकर विभाग अपनी अकर्मण्यता को छुपाना चाह रहा है।