कई बर्ष बीत गए आज भी लोग बांस चचरी के सहारे कर रहे हैं सड़क पार

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत अंचरा एवं मानिकपुर सीमा को जोड़ने वाले सड़क 2017में आए भीषण बाढ़ के कारण सड़क छतिग्रस्त हो गया तब से लेकर आज तक किसी जनप्रतिनिधि ने इस सड़क की शुद्ध नहीं लिया. बताते चलें कि ग्राम पंचायत मानिकपुर वार्ड संख्या-15 से अंचरा पंचायत के सीमा तक ठाकुर टोला बजरंगबली मंदिर से होते हुए जाने वाले सड़क पूर्व में आए भीषण बाढ़ के कारण पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका है। यहां तक की सड़क में बने पुल भी बाढ़ के कारण ध्वस्त हो चुका है। जिससे बरसात के समय आसपास के वार्डों के लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। यहां तक की हाथों में चप्पल लिए लोग इस सड़क को पार करने को लेकर मजबूर हैं.

इस बाबत स्थानीय लोगों में वार्ड सदस्य मनोज यादव, दयानंद ठाकुर, सगमलाल यादव, शंभू ठाकुर, लाल विजय रजक, प्रभु यादव, बबलू राम, अशोक ऋषि देव, तेज नारायण यादव शत्रुघ्न पासवान, आदि ने बताया कि लगभग पांच हजार अवादी वाला टोला हम लोगों का है। प्रत्येक दिन सैकड़ों की संख्या में इस सड़क से फुलकाहा बाजार हम लोग जाते आते हैं।अगर बरसात के समय कोई बीमार पड़ जाए तो पैदल के सिवाय कोई साधन हम लोगों के गांव तक नहीं है। गांव के लोगों ने मिलकर महिलाओं एवं बच्चों के लिए बांस का चचरी पुल का निर्माण कर हम लोग आते जाते हैं। सड़क को लेकर स्थानीय जनप्रतिनिधि से कई बार हम लोगों ने गुजारिश किया,की चलने लायक कम से कम बना दें तो किसी ने नहीं सुना। इसको लेकर तत्कालीन विधायक से भी कहा गया था लेकिन उन्होंने भी शिलान्यास एवं बोर्ड लगाकर छोड़ दिए। समय रहते बरसात से पहले अगर सड़क का कार्य नहीं कराया गया तो हम लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता.

क्या कहते हैं विभागीय कनीय अभियंता:-

पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि सड़क का प्रशासनिक स्वीकृति मिल चुका है, टेंडर में डाला गया। टेंडर होने के बाद जल्द से जल्द निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा।