बेटी की शादी से पहले उठी पिता की अर्थी!

 बेटी की शादी से पहले उठी पिता की अर्थी!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पटना के गौरीचक थाना अंतर्गत बिहटा सरमेरा सिक्स लेन पर शनिवार की सुबह करीब साढ़े नौ बजे अज्ञात बेलगाम रफ्तार बोलेरो ने बाइक सवार चालीस वर्षीय व्यक्ति को कुचल दिया। हादसे में मौके पर ही व्यक्ति की मौत हो गयी जबकि उनके साथ रहे बाइक सवार युवक बुरी तरह घायल हो गया। स्थानीय लोगो ने घायल युवक को ईलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया । इसके बाद गुस्साए लोगों ने सड़क जाम कर दिया और बेकाबू वाहनों की रफ्तार पर नियंत्रण के लिए मांग करते हुए मृतक के परिवार को मुआवजा और धक्का मार भागने वाले वाहन चालक को पकड़ने की मांग करने लगे। इस बीच मृतक की शिनाख्त बीबीपुर निवासी कैलाश राम उर्फ आखिलेश राम पिता यदुनंदन राम के रूप में होते ही परीजनो में कोहराम मच गया। मृतक की बेटी का 26 मई को ब्याह होने वाला था । वही पिता बेटी की शादी के लिए खरीदारी करने अपने भांजा के साथ निकले थे तभी सैदनपुर के पास हादसे का शिकार हो गए। हादसे में पिता की मौत की खबर सुनकर पिया के घर जाने की तैयारियों में जुटी बेटी और उसकी मां बेहोश हो गई।शादी ब्याह वाले भरे पूरे परिवार में चीत्कार मच गया। जिसने भी इस हृदयविदारक घटना के बारे में सुना वह दुर्घटनास्थल पर पहुंच प्रशासन के खिलाफ गुस्से के इजहार करने लगे । मौके पर गौरीचक व आसपास के थाने की पुलिस पहुंची और सड़क पर आगजनी कर बवाल काट रहे लोगो को समझाया और तत्काल स्थानीय मसाढ़ी पंचायत मुखिया राजीव ने बीस हजार औऱ कबीर अंत्येष्टि के तीन हजार मुआवजा दिया। प्रशासन ने मृतक के परिवार को सरकारी मुआवजा चार लाख की राशि दिलाने और घायल युवक के ईलाज कराने का आश्वासन देकर सड़क जाम हटाया। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। 
घटना के बारे में मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने बताया कि बीबीपुर में अखिलेश राम के घर शादी ब्याह का माहौल था.

आगामी 26 मई को अखिलेश की बेटी की शादी थी। शादी ब्याज और बारात के स्वागत में परिवार के लोग जूटे थे। इस बीच ही बाइक से भांजा के साथ अखिलेश खरीदारी करने निकले थे तभी तेज रफ्तार बोलेरो ने सैदन पुर के पास उनकी बाइक में धक्का मार कुचलते हुए फरार हो गया। ग्रामीणों का कहना था कि बिहटा सरमेरा सिक्स लेन हाईवे पर मौत की रफ्तार से वाहन चलते है जिससे बराबर हादसे में लोगो की जान जा रही है ।इस ओर प्रशासन का जरा भी ध्यान नही है। वहीं पोस्टमार्टम के बाद जब आखिलेश का शव घर पहुंचा तब परिजनों में चीत्कार मच गया । मृतक की पत्नी बेटी और परिवार के अन्य लोगो का रो रो कर बुरा हाल होने लगा। जिस घर से बेटी की डोली उठने की तैयारी हो रही थी वहीं उससे पहले पिता की अर्थी निकली। इस घटना से सैदन पुर का माहौल मातमी हो गया। हर कोई इस घटना पर रो पड़ते और कहते कि जिस पिता ने बेटी की डोली विदा करने का सपना संजोय थे वहीँ उन्हें ही पहले भगवान ने क्यों बुला लिया. गौरीचक थानेदार लालमणि दुबे ने बताया कि अज्ञात वाहन से धक्का लगने में एक चालीस साल के व्यक्ति की मौत हो गयी । मृतक के परिवार को नियानुसार मुआवजा दिलाने का प्रयास किया जाएगा। धक्का मार भागने वाले।वाहन चालक का पता लगाया जा रहा है।

News Crime 24 Desk

Related post