सिविल सर्जन ने हरी झंडी दिखाकर चलंत टीकाकरण रथ को क्षेत्र भ्रमण के लिये किया रवाना

 सिविल सर्जन ने हरी झंडी दिखाकर चलंत टीकाकरण रथ को क्षेत्र भ्रमण के लिये किया रवाना
Advertisement
Ad 3
Advertisement
Ad 4
Digiqole Ad

अररिया(रंजीत ठाकुर): कोरोना टीकाकरण के लिये अब जिले के 45 साल व इससे अधिक उम्र के लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का चक्कर नहीं लगाना होगा। सरकार ने उनके लिये टीकाकरण आपके द्वार अभियान शुरू किया है। जिले में यह अभियान बुधवार से शुरू हुआ। इसके माध्यम से गांव-गांव जाकर चिह्नित आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण किया जा सकेगा। अधिक से अधिक संख्या में लोगों को टीकाकृत किये जाने के उद्देश्य से चलंत टीकाकरण सत्र का आयोजन ग्रामीण इलाकों में रिहायशी इलाकों के आस-पास किया जायेगा। टीका एक्सप्रेस के संचालन में राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) के तहत संचालित वाहन उपयोग में लाया जा रहा है। आरबीएसके सदस्यों के सहयोग से चलंत टीकाकरण कार्य का संचालन किया जाना है।

Advertisement
GOLU BHAI
Advertisement
MS BAG

टीकाकरण रथ को सिविल सर्जन ने दिखायी हरी झंडी

Advertisement
Ad 2

टीकाकरण आपके द्वार अभियान के तहत बुधवार को सिविल सर्जन अररिया ने फारबिसगंज अनुमंडल अस्पताल परिसर में टीकाकरण रथ को हरी झंडी दिखाकर कर क्षेत्र भ्रमण के लिये रवाना किया। जिले के पीएचसी में संबंधित प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी व आरबीएसके के अधिकारियों ने रथ को हरी झंडी दिखाकर टीकाकरण के लिये क्षेत्र रवाना किया। सिविल सर्जन डॉ एमपी गुप्ता ने कहा कि 45 साल व इससे अधिक उम्र के लोगों को इस अभियान का लाभ होगा। टीकाकरण सत्र का निर्धारण लाभार्थी के गांव के समीप किसी विद्यालय, सामुदायिक भवन, पंचायत सरकार भवन सहित अन्य सार्वजनिक जगहों पर किया जायेगा। पीएचसी प्रबंधक, प्रखंड कार्यक्रम समन्वयक जीविका को आपस में समन्वय स्थापित कर सत्र स्थल के निर्धारण की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। सत्र संचालन की सूचना ससमय संबंधित क्षेत्र की आशा, एएनएम, जीविका व स्थानीय जनप्रतिनिधियों को उपलब्ध कराया जाना। ताकि क्षेत्र में इसका व्यापक प्रचार प्रसार हो सके। साथ ही अभियान का लाभ अधिक से अधिक लोगों को उपलब्ध कराया जा सके। एक गांव में टीकाकरण का कार्य पूर्ण होने के बाद टीका एक्सप्रेस नजदीकी दूसरे गांव के चिह्नित टीकाकरण सत्र पर पहुंचेगा। चलंत टीकाकरण का कार्य सुबह 08 बजे से संचालित किया जायेगा।

लाभुकों का होगा ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन

चलंत टीकाकरण अभियान के तहत आरबीएसके के तहत कार्यरत एएनएम की मदद से टीकाकरण का कार्य संपादित किया जायेगा। तो वहीं उपलब्ध फार्मासिस्ट के माध्यम से लोगों का ऑन स्पॉट पंजीकरण करते हुए टीकाकरण का कार्य संपन्न कराया जायेगा। इंटरनेट संबंधी खामियों की वजह से कोविन पोर्टल पर आंकड़ों के ससमय संधारन में आने वाली दिक्कतों से निपटने के लिये सत्र स्थल पर लाभुकों के विस्तृत विवरणी नाम, पता, आधार संख्या, जन्म तिथि, लिंग आदि को अलग से संधारित करते हुए टीकाकरण का कार्य संपन्न कराया जायेगा। कोविन पोर्टल पर इसका संधारण उसी दिन सुनिश्चित कराना जरूरी होगा।

टीकाकरण के शतप्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति का होगा प्रयास

चलंत टीकाकरण अभियान की जानकारी देते हुए आरबीएसके के जिला समन्वयक डॉ तारिक जमाल ने कहा कि वैश्विक महामारी के दौरान रोगियों की खोज व समुचित इलाज की सुविधा उन तक पहुंचाने के प्रयासों में आरबीएसके के चिकित्सक व कर्मियों का अब तक महत्वपूर्ण योगदान रही है। इसे देखते हुए टीकाकरण संबंधी जो जिम्मेदारी सरकार ने उन पर सौंपी है। इसका शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराने का हर संभव प्रयास किया जायेगा। अभियान के तहत हर दिन दौ सौ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित है। इसे हर हाल में पूरा किया जायेगा। ताकि अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण संभव हो सके।

Digiqole Ad

News Crime 24 Desk

Related post

error: Content is protected !!