आर्केस्ट्रा में नाचने वाली 7 लड़कियां एकसाथ जा पहुंची थाने!

 आर्केस्ट्रा में नाचने वाली 7 लड़कियां एकसाथ जा पहुंची थाने!
Advertisement
Ad 3
Advertisement
Ad 4
Digiqole Ad

गढ़वा: झारखंड के गढ़वा में बड़ा बवाल हुआ है। डंडई थाना क्षेत्र के महुदंड गांव निवासी दामोदर ठाकुर ने आर्केस्ट्रा ग्रुप में काम करने वाली छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश के सात लड़कियों को मजदूरी का पैसा के दिए ही अपने किराए के घर से निकाल दिया दिया। आर्केस्ट्रा ग्रुप में नृत्यांगना का काम करने वाली सभी लड़कियों ने डंडई थाना पहुंच इसकी शिकायत थाना प्रभारी सुनील कुमार पटेल से की। जानकारी के अनुसार आर्केस्ट्रा ग्रुप संचालक महुदंड गांव निवासी दामोदर ठाकुर ने छत्तीसगढ़ के सूरजपुर एवं सरगुजा तथा मध्यप्रदेश के विभिन्न शहरों से लड़कियों को लाकर आर्केस्ट्रा ग्रुप में नृत्यांगना का काम करने वाली लड़कियों को अपने कार्यक्रम के साथ साथ सप्लायर का काम करता है।दामोदर ठाकुर उन सभी लड़कियों को अपने घर में ही भाड़े के रूम में रखता है और वहीं उन सभी को खाने पीने का भी व्यवस्था वहीं करता है। वह सभी लड़कियों को वहां से शादी सहित अन्य समारोह में नृत्यांगना का कार्य करने के लिए बुकिंग करता है।लेकिन दामोदर ठाकुर के द्वारा आर्केस्ट्रा ग्रुप में नृत्यांगना कार्य का पैसा के बिना ही उन सभी को अपने घर से निकाल दिया गया। बता दें कि उन सभी लड़कियों ने सरकार के स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह लगने के पूर्व अपने घर जाना था। जिस कारण लड़कियों द्वारा दामोदर ठाकुर से अपने किया हुआ कार्य की पैसों की लगातार मांग की जा रही है.भगवानपुर में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान पैसों की मांग करने पर आर्केस्ट्रा ग्रुप संचालक दामोदर ठाकुर ने पैसा देने से इनकार कर दिया और खाना पीना देना बंद कर दिया। उसके बाद भी उन सभी लड़कियों ने मंगलवार को एक बार फिर से घर जाने के लिए पैसा की मांग की तो जबरन उन सभी को घर से निकाल देख लेने की धमकी देते हुए घर से निकाल दिया। इसके बाद लड़कियों ने भूखे प्यासे एक दिन गुजारने के बाद डंडई थाना पहुंच इसकी शिकायत की है।एनएफ
शिकायत करने पहुंची लड़कियों ने बताया कि हम सभी सात लड़कियां हैं। जिसमें दो लड़कियां मध्य प्रदेश और पांच छत्तीसगढ़ के सूरजपुर व सरगुजा के हैं। हम लोगों से एक माह तक आर्केस्ट्रा ग्रुप में नृत्यांगना का कार्य करा कर दामोदर ठाकुर द्वारा पैसा नहीं दिया गया।जब हम लोग अपने घर जाने के समय दामोदर से पैसों की मांग किया तो दो दिन तक खाना पीना देना बंद कर दिया। इसके बाद हम लोगों को घर से भी निकाल दिया। मामले को लेकर हम लोग डंडई थाना में शिकायत करने आए हैं। मामले को संज्ञान में लेकर लड़कियों द्वारा किया गया कार्य का पैसा का भुगतान करा दिया गया है। सुनील कुमार पटेल, थाना प्रभारी डंडई।

Advertisement
GOLU BHAI
Advertisement
MS BAG
Digiqole Ad

Advertisement
Ad 2

News Crime 24 Desk

Related post

error: Content is protected !!