22 साल का हुआ महावीर कैंसर संस्थान

पटना(अजित यादव): पूर्वोत्तर भारत सबसे बड़ा कैंसर संस्थान और पटना के महावीर मंदिर के दान से संचालित पटना से औरंगाबाद जाने वाली नेशनल हाईवे 98 पर फूलवारी शरीफ में स्थित महावीर कैंसर संस्थान अकेला ऐसा संस्थान है जो कोरोना काल मे भी तमाम झंझावतों को झेलते हुए कैंसर के मरीजो का निरंतर इलाज करता चला आ रहा है । इस महावीर कैंसर संस्थान पर सबसे ज्यादा हक गरीब मरीजो का ही है और उन्हें पूर्ण अत्याधुनिक तकनीक से कैंसर का इलाज करने में कोई कोताही न बरता जाए । इसके अलावा महावीर कैंसर संस्थान में यह सुनिश्चित हो कि भर्ती होने के 15 दिनों के अंदर हर हाल में कैंसर के मरीजो का ऑपरेशन किया जाए । ये बातें शुक्रवार को महावीर कैंसर संस्थान में 22 वीं स्थापना दिवस समारोह का उद्घाटन भाषण करते हुए महावीर मन्दिर न्यास समिति के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने कहा । आचार्य किशोर कुणाल ने अस्पताल

के सभी कर्मियों को बधाई दी। उन्होंने सभी गरीब कैंसर मरीजों की बढ़िया से देखभाल के लिए उन्हें हर तरह की मदद देने के लिए निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अस्पताल के विस्तार के लिए और जमीन की व्यवस्था की जा रही है, जिससे कि मरीजों की बढ़ती भीड़ को और सुविधा मिल सके। उन्होंने कहा कि अस्पताल के विकास में पैसे की परेशानी नहीं
होगी। उन्होंने कहा कि महावीर कैंसर अस्पताल पर गरीबों का सबसे अधिक हक और
अधिकार है। अपने स्वागत भाषण में अधीक्षक डा० एल० बी० सिंह ने कोरोना महामारी में इस वर्ष हुए परेशानियों का जिक्र किया तथा इस चूनौती का सामना करके अस्पताल को सुचारू रूप से चलाने का विस्तृत वर्णन किया। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में कई महीनों तक सिर्फ महावीर कैंसर संस्थान में ही कैंसर मरीजों का इलाज होता रहा। उन्होंने सभी चिकित्सकों एवं अन्य कर्मचारियों को सहयोग के लिए बधाई दी। डा० सिंह ने बताया कि आयुष्मान भारत परियोजना को अस्पताल में सूचारू रूप से चलाने के लिए सरकार द्वारा इस वर्ष भी पुरस्कृत किया गया। डा० मनीषा सिंह निदेशक इन्चार्ज ने संस्थान के वार्षिक रिर्पोट में विभिन्न विभागों द्वारा किये गये कार्यो का विस्तृत विवरण दिया और उन्होंने कहा कि हमारे संस्थान के सभी विभागों का ग्राफ बहुत ही अच्छा रहा। डा० विनीता त्रिवेदी, विभागाध्यक्ष, रेडियोथेरेपी ने अपने विभाग में किये गये कार्यो की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि एक आधुनिक कोबाल्ट मशीन अस्पताल में लग चुकी है एवं जल्द ही कोबाल्ट मशीन से गरीब मरीजों को फायदा मिलना शुरू हो जाएगा। इस अवसर पर अस्पताल के चिकित्सकों, अन्य कर्मियों तथा कैंसर से पीड़ित बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर राधा रानी और आशा विहार संस्था की तरफ से गरीब कैंसर मरीजों के बीच कंबल और फल वितरित किये गये। रेडियोथेरेपी विभाग की डा० ऋचा चौहान ने मंच का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन किया।