रात के अंधेरे में हो रही थी फिस्फोटक सामग्री का खेल, दो गिरफ्तार

चतरा(न्यूज़ क्राइम24): सिमरिया पुलिस एवं सीआरपीएफ 190 बटालियन बिकॉय जगुवार एव कोबरा बटालियन के साथ संयुक्त रूप से उग्रवादियों के विरुद्ध क्षेत्र में चलाए जा रहे एलआरपी अभियान के तहत रात्रि को 50 पॉवर जिलेटिन व 54 डेटोनेटर तथा 6 किलो पांच सौ ग्राम अमोनीनियम नाइट्रेट के अलावे एक बजाज मोटरसाइकिल के साथ मनातू गांव निवासी राजकुमार साव को गिरफ्तार किया गया । थाना प्रभारी गुलाम सरवर ने बताया कि क्षेत्र में उग्रवादियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत रात्रि को मनातू गांव निवासी तिलरा से मोटरसाइकिल पर बोरी में लाद कर विस्फोटक समान मनातू की ओर आ रहा था । पुलिस को सक होने पर पहले रोका और जांच किया गया । मौजूद डॉग स्कावड़ दल के द्वारा जांच करने पर बताया कि उक्त बोरी में विस्फोटक समान भरा है। त्वरित कार्रवाई करते हुए राजकुमार साव को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार राजकुमार से पूछ ताछ करने पर बताया कि यह विस्फोटक कोयला उत्खनन के लिए थाना इचाक हजारीबाग के डुमरोन तिलरा गांव से जितेंद्र साव के पास से ला रहे हैं । राजेन्द्र साव के निशानदेही पर तिलरा गांव के जितेंद्र साव को गिरफ्तार कर लिया गया वही राजेश नामक युवक फरार हो गया। गिरफ्तार दोनों युवक के विरुद्ध सिमरिया थाना में कांड संख्या 192/20 भादवी 414/34, 456 विस्फोटक अधिनियम के तहत दोनों युवकों को चतरा जेल भेज दिया गया है।
अभियान में रामबृक्ष राम थाना प्रभारी कुन्दा,पुअनि कन्हैया कुमार यादव,पीयूष कुमार पुलिस निरिक्षिक सीआरपीएफ 22 बटालियन,हवलदार सुनील उरांव,आरक्षी अभिजीत कुमार पांडेय के अलावे सैट के शसस्त्र बल मौजूद थे।