मुआवजे की मांग के लिए प्रदर्शन

गिरिडीह(न्यूज़ क्राइम 24): पति की मौत के बाद पत्नी समेत परिजनों ने फैक्ट्री के बाहर किया प्रदर्शन शुक्रवार की देर रात डीवीसी के सामने मिला था बालमुकुंद फैक्ट्री के क्रेन ऑपरेटर की लाश
परिजनों ने कहा-मुआवजा ना देना पड़े इसलिए फैक्ट्री प्रबंधन ने शव बाहर फेंकवा दिया. मुफ्फसिल थाना क्षेत्र स्थित बालमुकुंद आयरन फैक्ट्री के क्रेन ऑपरेटर की मौत के बाद रविवार को मृतक की पत्नी समेत परिजनों ने प्रदर्शन किया। फैक्ट्री के गेट के बाहर धरने पर बैठी पत्नी का कहना है कि पति की मौत फैक्ट्री के अंदर हुई है। मुआवजे की राशि ना देनी पड़े इसलिए फैक्ट्री प्रबंधन ने शव को बाहर फेंकवा दिया है। बताते चलें कि क्रेन ऑपरेटर की लाश फैक्ट्री से 4 किलोमीटर दूर डीवीसी के पास शुक्रवार की रात मिला था।

मृतक की पहचान नगर थाना क्षेत्र के नगीना सिंह रोड निवासी राजेश राय (46) के रूप में की गई। शुक्रवार की रात उसका शव मिला था। मृतक के भाई का कहना है कि राजेश ड्यूटी के लिए रात 9 बजे घर से फैक्ट्री के लिए गए थे। कुछ देर राजेश के मोबाइल से ही किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर कहा कि उनकी मौत हो गई है. जब तक परिजन वहां पहुंचे तब तक पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया था। मृतक की पत्नी ज्योति देवी का कहना है कि फैक्ट्री प्रबंधन की लापरवाही से राजेश की मौत हुई है। मुआवजा ना देना पड़े इसलिए शव को बाहर फेंकवा सड़क हादसे की बात सामने रखी जा रही है। परिजनों ने मुआवजे व कार्रवाई की मांग की है।