मानसिक रोग से ग्रसित व्यक्ति ने खुद का गला रेत की आत्महत्या

सिमडेगा(न्यूज़ क्राइम24): कुरडेग थाना क्षेत्र के गड़ियाजोडर में मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति ने खुद का गला रेत कर आत्महत्या कर ली।घटना के संबंध में मृतक ईसु सहाय बाड़ा के परिजन तारामणि बाड़ा ने बताया कि मेरा भतीजा ईसु सहाय बाड़ा पिता इसहाक बड़ा ग्राम गड़ियाजोर थाना कुरडेग का लगभग 20 वर्षों से दिमागी संतुलन खराब चल रहा था एवं मिरगी नामक बीमारी से ग्रसित था। इस घटना से पूर्व भी वह कुआं में कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया था। जिसे गांव के लोगों के प्रयास से बचाया गया था।बीती रात्रि में वह घर का दरवाजा बंद कर लोहा के चाकू से गला रेत लिया।जिससे रात्रि में ही उसकी मृत्यु मौके पर हो गई।गुरुवार सुबह सो कर उठे परिजनों के द्वारा देखा गया कि घर के सभी दरवाजा बंद है एवं मृतक कहीं पर भी दिखाई नहीं पड़ रहा था।जिसके बाद परिवार जनों ने गांव वालों को सूचना दी। सूचना मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंचे एवं इसकी जानकारी कुरडेग थाना प्रभारी को भी दी। सूचना मिलते ही कुरडेग थाना प्रभारी मोहन बैठा दल बल के साथ मौके पर पहुंचे एवं दरवाजा को तोड़ा। दरवाजा तोड़ने के पश्चात देखा गया कि मृतक यीशु सहाय बाड़ा लोहे के चाकू से खुद का गला रेत कर आत्महत्या कर लिया है। जिसके बाद कुरडेग थाना प्रभारी के द्वारा शव को अपने कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण हेतु सदर अस्पताल सिमडेगा भेज दिया गया एवं आवश्यक कानूनी कार्रवाई में जुट गई।