महाप्रबंधक लोकनाथ साहू ने क्षेत्रीय कार्यालय का निरीक्षण किया!

समस्तीपुर(मेश शंकर झा): यूनियन बैंक ऑफ इंडिया रांची जोन के उपक्षेत्र महाप्रबंधक लोकनाथ साहू ने समस्तीपुर क्षेत्रीय कार्यालय का निरीक्षण किया। इस मौके पर उन्होंने क्षेत्रीय कार्यालय परिसर में वृक्षारोपण करते हुए कहा कि पर्यावरण का संरक्षण करना हम सबों कि जिम्मेवारी है एवं आने वाली पीढ़ी के लिए एक बहुमुल्य उपहार भी है। तत्पश्चात उन्होंने क्षेत्रीय कार्यालय के सभी बैंक अधिकारियों के साथ बैठक कर केन्द्रीय कार्यालय के विजन एवं मिशन के बारे मे विस्तारपूर्वक बताते हुए उसके अनुपालन हेतु दिशा निर्देश दिये।

इस निरीक्षण कार्यक्रम के तहत यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के सभी ज़िलो से आये हुए शाखा प्रबंधकों के साथ वितिय वर्ष 2020-21 के दिसम्बर त्रैमासिक के लक्ष्य प्राप्ति कि समीक्षा एवं मार्च त्रैमासिक के लक्ष्य प्राप्ति कि योजना पर गहन समीक्षा की। उन्होंने बैंक अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि बैंकिंग मुख्यतः ग्राहक सेवा पर आधारित है। ग्राहक की संतुष्टि ही हमारा उद्देश्य है। ग्राहक सेवा में बैंक के जमकर्ताओं के साथ-साथ ऋणियों को दी जाने वाली सुविधाएं भी हैं। यह आवश्यक है कि ऋणीयों को समयानुसार उचित मात्रा में ऋण मिलें। इसके साथ ही इस बात पर ध्यान दिया जाना चाहिए कि ऋण आवेदनों का समय-सीमा के अंतर्गत निष्पादन किया जाए।

वहीं बैंक ऋण प्रवाह को निर्बाध रूप से जारी रखने के लिए समयानुसार एवं आवश्यकतानुसार ऋण वितरण के साथ ही ऋण जमा भी आवश्यक है। शाखा प्रबन्धक को ऋण वसूली हेतु ऋणीयों से बराबर संपर्क स्थापित करते रहने के लिए कहा ताकि क्षेत्र में वसूली संस्कृति बनी रहे। डिजिटल युग के बारे मे बताते हुए उन्होने कहा कि आजकल सभी कार्यलयो मे आवेदन ऑनलाइन किए जा रहे है ठीक उसी प्रकार बैंको मे भी उधमियों के लिए PSB59MINUTES पोर्टल, किसानो के लिए PMFBY पोर्टल से कृषि ऋण, शिक्षा ऋण के लिए VIDYALAKSHMI पोर्टल के माध्यम से ऋण का आवेदन किए जाते है, जो घर बैठे ग्राहक ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

इसके लिए हमे ग्राहको को और भी जागरूक करने कि आवश्यकता है साथ ही उसपे हो रहे आवेदन का त्वरित निष्पादन करने हेतु शाखा प्रबन्धको से कहा। इस मौके पर विशेष ऋण वितरण कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया जिसमें कुल दो सौ पंद्रह लोगों के बीच बारह करोड़ का ऋण दिया गया। वित्तीय समावेशन योजना बैंकों के क्रियाकलापों का एक महत्त्वपूर्ण क्षेत्र रहा है। जिसमे सामाजिक सुरक्षा योजनांतर्गत प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, सुकन्या समृद्धि योजना, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टैंड अप इंडिया योजना, नेशनल पेंशन स्कीम, प्रधानमंत्री जनधन योजनाओ का लाभ प्रत्येक अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए कहा।

वहीं सभी बैंक कर्मियों को साथ मिलकर कार्य करने की आवश्यकता है, जो सरकार और देश के विकास में मील का पत्थर साबित हो एवं ग्रामीण व शहरी इलाकों में वंचित लोग बैंक से जुड़ पाएं तथा सरकार की अन्य आनेवाली योजनाओं का लाभ भी उठा पाएं। बदलते समय के साथ-साथ बैंकिंग की चुनौतियाँ भी बदल रही है, जिसमें इंटरनेट बहुत हद तक शाखाओं में जाकर बैंकिंग लेनदेन करने की कठिनाइयों को आसान भी बना रहा है। शाखाओं में ग्राहकों को डिजिटल लेनदेन के प्रति जागरूक करना व उन्हें पूर्णतः ऑनलाइन बैंकिंग प्लेटफ़ार्म उपलब्ध कराना हम सबकी ज़िम्मेवारी है।

आगे उपक्षेत्र महाप्रबंधक ने कहा कि इस जिले का अग्रणी बैंक यूनियन बैंक ऑफ इंडिया है। इसलिए ज़िले के सभी यूनियन बैंक के शाखा प्रबन्धको को हर क्षेत्र मे अग्रणी रहने का निर्देश दिया। इस कार्यक्रम के तहत उपक्षेत्र महाप्रबंधक ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया कि मोहनपुर रोड एवं महती टोला शाखा का औचक निरीक्षण किया। इस कार्यक्रम के मौके पर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के क्षेत्र प्रमुख धर्मेद्र रजोरिया ने बताया की समस्तीपुर क्षेत्रीय कार्यालय के अंतर्गत तेरह ज़िलो को मिलकर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का कुल कारोबार नवंबर 2020 तक 4277.95 करोड़ रु० है जिसे मार्च 2021 तक 5000 करोड़ रु० पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है।

कोरोना काल मे सभी शाखा के कर्मचारी एवं अधिकारीयो ने निर्बाध रूप से अपनी सेवा ग्राहको को दी है इसके लिए उपक्षेत्र महाप्रबंधक ने सभी को धन्यवाद दिया। मौके पर यूनियन बैंक के क्षेत्र प्रमुख धर्मेन्द्र राजोरिया, उपक्षेत्र प्रमुख जितेंद्र चौधरी, मुख्य प्रबंधक एवं क्षेत्रीय कार्यलय के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्तिथ थे।