बिहार

भूमि विवाद में हुई मौत को लेकर सांसद व विधायक ने पीड़ित परिवार से मिलकर दी उन्हें सांत्वना

Advertisements
Ad 4

अररिया(रंजीत ठाकुर): बीते बुधवार को फारबिसगंज प्रखंड के डाक हरिपुर में भूमि विवाद में हुई मारपीट में सत्यनारायण मेहता की हुई मौत को लेकर आज गुरुवार को अररिया से सांसद प्रदीप सिंह व फारबिसगंज विधायक मंचन केसरी ने मृतक के परिजनों से मिलकर उनको सात्वना दी। इस मौके पर विधायक मंचन केसरी ने कहा कि यह घटना काफी हृदयविदारक है।शहर में बढ़ते हुए अपराध कहीं न कहीं पुलिस की नाकामी को दर्शाता है। वहीं सांसद प्रदीप कुमार सिंह ने पूर्णिया प्रक्षेत्र के आईजी से बात कर घटना की जानकारी दी तो वह मृतक की बेटी मौसम कुमारी से बात कर मामले की पूरी जानकारी उन्हें दी । वहीं आईजी पूर्णिया ने मौसम को लाइन पर रखकर फारबिसगंज थानाध्यक्ष निर्मल कुमार यादविंदू से बात कर उन्हें जमकर फटकार लगाई।कई जानकारी देते हुए मौसम ने बताया कि मेरे पिता मां को लेकर चौक की तरफ गए थे, जहां पहले से घात लगाए हुए लोगों ने उनके साथ जमकर मारपीट करने लगे, मुझे जब जानकारी मिली तो मैं वहां गई तो देखा कि मेरे पिताजी को अस्त्र-शस्त्र से लैस कुछ लोग मार रहे थे,जिसकी मैंने वीडियो बनाई तो बचाने के क्रम में मेरे साथ और कई लोगों को उन्होंने जमकर पिटाई कर दी।आनन-फानन में जब मैंने पिता जी के मोबाइल से फारबिसगंज थाने को सूचना दी।सूचना के घंटो बाद पुलिस पहुंची। एंबुलेंस के लिए भी स्थानीय लोगों का सपोर्ट नहीं मिला। मुझे खुद से ही कॉल करके एंबुलेंस बुलाना पड़ा। समाज के लोगों का भी कोई सपोर्ट नहीं मिल पाया।फारबिसगंज पुलिस की कार्यशैली काफी सुस्त है,मौसम ने आईजी से दुरभाष पर बताया कि पुलिस ने पैसे की वजह से कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की।उन्होंने कहा हम मांग करते हैं कि जल्द से जल्द मेरे पिताजी के हत्यारे की गिरफ्तारी हो और उन्हें कड़ी से कड़ी सजा मिले, ताकि भविष्य में इस तरह की घटना की पुनरावृति न हो। मृतक सत्यनारायण मेहता तीन भाई और तीन बहन में बीच के थे । उनके बड़े भाई का निधन हो चुका है ।उनका एक लड़का और एक लड़की अभी पढ़ाई कर रहे हैं। लड़का आशीष नवोदय की तैयारी कर रहा है तो वहीं मौसम कुमारी पटना में रहकर के कंपटीशन की तैयारी कर रही है।मृतक की पत्नी चांदनी देवी गांव में हीआशा कार्यकर्ता हैं। मौके पर अररिया सांसद प्रदीप सिंह,फारबिसगंज विधायक मंचन केसरी,पूर्व विधायक लक्ष्मी नारायण मेहता,भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष आलोक भगत,जीप सदस्य कलवी देवी,अजय झा,अविनाश कनौजिया,नीरज निराला, अमित निराला वहीं ग्रामीणों में सदानंद मेहता, आनंदी प्रसाद मेहता, सुशील मेहता, शंभू पासवान पूर्व पंचायत समिति सदस्य, वीरेंद्र मेहता, दिलीप मेहता आदि शामिल था।

Advertisements
Ad 2

Related posts

BREAKING : बिहार में बालू खनन पर लगी रोक

केंद्र सरकार नीट मामले में अपने लोगों और एनटीए को बचाने में लगी हुई है : एजाज अहमद

रुपौली विधानसभा उपचुनाव में एनडीए समर्थित जदयू प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित : उमेश सिंह कुशवाहा