बहू को पीटकर घर से भगाया, सदर अस्पताल में किया गया इलाज

जमुई(मो. अंजुम आलम): एक बहू के साथ मारपीट कर घर से बाहर करने का मामला प्रकाश में आया है। मारपीट से घायल हुई बहू का इलाज मंगलवार को सदर अस्पताल में किया गया। उक्त घायल बहू सिकंदरा थाना के हरियरपुर गांव निवासी वीरेंद्र यादव की पत्नी अंजू देवी बताई जाती है। घायल महिला ने बताया कि 29 नंवबर को उसके ससुर महदू यादव, सास उर्मिला देवी, देवर अधिक यादव और सौतन रानी देवी मिलकर उसके साथ मारपीट किया और घर से बाहर निकाल दिया। उसके बाद लोहरा गांव अपने नैहर वालों को फोन कर बुलाया, तब स्वजनों ने उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। अंजू देवी ने बताया कि उसकी शादी वर्ष 2008 में हुई थी। शादी के बाद उसे एक बेटी है।

उसने बताया कि उसके पति और ससुराल वाले अक्सर उसके साथ मारपीट किया करते हैं। इसको लेकर कई बार पंचायत भी हुई लेकिन उनके ससुराल वाले पंचायत को मनाने से इंकार कर देते है। ससुराल वाले के द्वारा लगातार मारपीट होने के कारण उसके परिवार वालों ने वर्ष 2017 में झारखंड के धनवाद से एक केश किया था। कोर्ट के आदेश पर उसके पति ने उसे घर लेकर गए लेकिन कुछ दिन के बाद फिर से मारपीट शुरू कर दिया। उसने कहा कि दो वर्ष पूर्व उसके पति ने सिकंदरा थाना अंतर्गत लछुआड़ के जानसीडीह एक शादी भी कर ली है। जब से दूसरी शादी हुई है तब से उसके पति और ससुराल वाले उसके साथ और ज्यादा मारपीट करने लगे है। महिला ने बताया कि फिलवक्त मारपीट करने का आवेदन सिकंदरा थाना और महिला थाना को दिया है।